close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अनंतनाग आतंकी हमले में शहीद हुए यूपी के दो लाल, गाजीपुर-शामली में पसरा मातम

कल ही शहीद महेश कुमार के पिता को भी दिल का दौरा पड़ा है, पिता को अभी बेटे की शहादत के बारे में पता नहीं है. 

अनंतनाग आतंकी हमले में शहीद हुए यूपी के दो लाल, गाजीपुर-शामली में पसरा मातम
शहीद महेश कुशवाहा और सतेंद्र कुमार की फाइल फोटो

गाजीपुर/शामली: जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में यूपी के दो लाल शहीद हो गए गाजीपुर के जैतपुरा गांव के रहने वाले सीआरपीएफ जवान महेश कुमार कुशवाहा और शामली के सतेंद्र कुमार शहीद हो गए. मौत की खबर मिलते ही दोनों परिवारों में मातम का माहौल है. घर में परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल हैं. 

यूपी के गाजीपुर के रहने वाले महेश कुमार कुशवाह बुधवार को अनंतनाग में हुए आतंकी हमले ने शहीद हो गए. जबसे परिवार को ये खबर मिली है. तबसे परिवार को रो-रोकर बुरा हाल हो गया है. जानकारी के मुताबिक, कल ही शहीद महेश कुमार के पिता को भी दिल का दौरा पड़ा है, पिता को अभी बेटे की शहादत के बारे में पता नहीं है. 

वहीं शहीद की पत्नी को जबसे पति की शहादत की खबर लगी है, तब से वह भी अस्पताल में भर्ती है. परिजनों ने बताया कि शहीद महेश से कुछ दिनों पहले बात हुई थी. महेश ने जल्दी छुट्टी पर आने की बात कही थी. लेकिन छुट्टी आने से पहले उनके शहीद होने की खबर से उनके घर के साथ ही पूरे गांव में मातम छाया हुआ है. वहीं, शहीद के पड़ोस में रहने वाले विधायक वीरेंद्र यादव उनके घर पहुंचे और दुख जताया. 

वहीं, दूसरा शहीद यूपी के शामली के रहना वाला है. सत्येंद्र कुमार की शहादत के खबर आने के बाद से घर और गांव में मातम छा गया. शहीद सत्येंद्र के परिवार में तीन भाई और 2 बहने है. सत्येंद्र के दो बच्चे हैं, जिनका जिम्मा अब उनके दादा पर है. पिता को बेटे की शहादत पर गर्व है.