close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बाराबंकी के बाद अब सीतापुर में जहरीला बना 'जाम', 3 लोगों की मौत, कई गंभीर

 मामला सुर्खियों में पहुंचने के बाद एसडीएम सहित सीओ व थाना पुलिस मौके पर पहुंची औक दो शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जहरीली शराब से मौत के लक्षण मिले हैं. वहीं, एक शव को परिजनों से अंतिम संस्कार कर दिया. 

बाराबंकी के बाद अब सीतापुर में जहरीला बना 'जाम', 3 लोगों की मौत, कई गंभीर
इस मामले में पैतेपुर चौकी प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया है.

सीतापुर: बाराबंकी जिले में जहरीली शराब पीने से हुई मौतों के बाद पड़ोसी जनपद सीतापुर भी अछूता नहीं रहा है. बीते 24 घंटों के अंदर 2 गांव के तीन लोगों की मौत हो गई है, जबकि 5 लोग बीमार हैं, जिनका इलाज अलग-अलग अस्पताल में हो रहे हैं. हालांकि इस पूरे मामले को लेकर जिला और पुलिस प्रशासन काफी देर पर्दा डालने की कोशिश करता रहा, लेकिन मामला ज्यादा देर तक छुप न सका. इस मामले में पैतेपुर चौकी प्रभारी को सस्पेंड कर दिया गया है.

मामला यूपी के सीतापुर के महमूदाबाद कोतवाली इलाके का है. मामला सुर्खियों में पहुंचने के बाद एसडीएम सहित सीओ व थाना पुलिस मौके पर पहुंची औक दो शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जहरीली शराब से मौत के लक्षण मिले हैं. वहीं, एक शव को परिजनों से अंतिम संस्कार कर दिया. 

मृतकों के परिजनों के मुताबिक, महमूदाबाद कोतवाली क्षेत्र के सहजनपुर निवासी विजय अपने साथी विनोद और सुमेरी लाल के साथ शराब पीने के लिए गया हुआ था. तीनों इलाके में बनने वाली अवैध शराब भट्टी पर शराब पी. देर रात तीनों लोग जब घर पहुंचे, तब उन्हें उल्टी के साथ सर में दर्द होने लगा. उन्होंने बताया कि उल्टी और सिर दर्द के साथ उन्हें आंखों से हल्का-हल्का दिखना भी कम होने लगा और देर रात उन तीनों की मौत हो गई. 

तीनों की एक साथ मौत के बाद गांव में हड़कंप मच गया. मृतक विजय के परिजनों ने पुलिस और प्रशासन को सूचना दिए बगैर शव का अंतिम संस्कार कर दिया. मामला जब मीडिया में आई, तो प्रशासन हरकत में आया. 

लाइव टीवी देखें

अवैध कच्ची शराब पीने से बीमार युवक का आरोप है कि वह पैंतेपुर निवासी कन्हैया लाल के यहां शराब पीने गया था जो कि वह कच्ची एल्कोहल युक्त शराब बनाता है. शराब पीने के बाद जब वह घर वापस आया तो उसे उल्टी होने लगी और सुबह तक उसकी तबीयत ज्यादा खराब हो गई. परिवार वालों ने उसे इलाज के लिए महमूदाबाद स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया. 

आपको बता दें कि बाराबंकी जिले के रामनगर क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से 17 लोगों की मौत हो गई तथा 44 लोग अभी भी केजीएमसी लखनऊ में भर्ती हैं. बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक अजय साहनी ने बुधवार शाम एक बयान में कहा कि जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या 17 पहुंच गई है.