बोर्ड परीक्षा 2020: पढ़ाई में खलल डालने वालों के खिलाफ अब तक 900 शिकायतें

लखनऊ में अब तक 106 शिकायतें दर्ज हो चुकी हैं. 112 पर शोरगुल की शिकायत को लेकर दूसरे नंबर पर गाजियाबाद और कानपुर रहे जहां बच्चों ने कॅाल कर पढ़ाई के दौरान हो रही परेशानी के खिलाफ शिकायतें दर्ज कराईं. 

 बोर्ड परीक्षा 2020: पढ़ाई में खलल डालने वालों के खिलाफ अब तक 900 शिकायतें
112 पर लगभग 900 शिकायतें दर्ज

लखनऊ: बोर्ड परीक्षाओं को देखते हुए उत्तर प्रदेश पुलिस ने बच्चों की मदद के लिए अनोखी पहल की है. जिसमें पढ़ाई के दौरान शोरगुल से हो रही परेशानी पर बच्चें 112 डायल कर पुलिस से इसकी शिकायत कर सकते हैं. जिसकें बाद बीते 48 घंटे में लखनऊ से सबसे ज्यादा शिकायतें मिली.

लखनऊ में अब तक 106 शिकायतें दर्ज हो चुकी हैं. 112 पर शोरगुल की शिकायत को लेकर दूसरे नंबर पर गाजियाबाद और कानपुर रहे जहां बच्चों ने कॅाल कर पढ़ाई के दौरान हो रही परेशानी के खिलाफ शिकायतें दर्ज कराईं. डीजीपी द्वारा परीक्षाओं के मद्देनजर शुरू किया गए इस अभियान में रविवार शाम तक 112 पर लगभग 900 शिकायतें दर्ज हो चुकी हैं. रोजना बच्चों की तरफ से औसतन 200 शिकायतें आ रही हैं. 

बता दें कि उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा चलाए गए इस अभियान में बच्चे सोशल मीडिया के जरिए भी पुलिस से सहायता ले सकते हैं. पुलिस ने इसके लिए बकायदा अगल से व्हाट्सएप नंबर भी जारी किया है.

बोर्ड परीक्षाओं को देखते हुए DGP के निर्देश पर उत्तर प्रदेश पुलिस का यह स्पेशल अभियान 15 फरवरी से 31 मार्च तक रहेगा. बच्चों को पढ़ाई के लिए बेहतर माहौल देने के लिए यह पहल की गई है.

स्कूलों के आसपास कम से कम 100 मीटर क्षेत्र को शांत क्षेत्र घोषित किया गया है. साथ ही अलग-अलग क्षेत्रों के लिए ध्वनि का मानक भी निर्धारित किया गया है. आदेश के मुताबिक, निर्धारित मानक से अधिक आवाज होने पर यूपी पुलिस कार्रवाई करेगी. लगातार नियमों का उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई भी की जाएगी.