UP: रेप पीड़िता पर एसिड अटैक, परिजनों ने लगाया समझौते के लिए दबाव बनाने का आरोप

यूपी के हापुड़ से दुष्कर्म पीड़िता पर एसिड फेंकने की घटना सामने आई है. पीड़ित परिवार ने आरोपियों पर मारपीट करने का भी आरोप लगाया है. 

UP: रेप पीड़िता पर एसिड अटैक, परिजनों ने लगाया समझौते के लिए दबाव बनाने का आरोप

मो. ताहिर/हापुड़: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जलाने की घटना अभी भी लोगों के जहन में है, वहीं इस बीच पश्चिमी यूपी के हापुड़ से दुष्कर्म पीड़िता पर एसिड फेंकने की घटना सामने आई है.

मामला जनपद हापुड़ के थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के एक गांव का है. जहां आरोप है कि नाबालिग दुष्कर्म पीड़िता पर एसिड फेंका गया. पीड़ित परिवार ने आरोपियों पर मारपीट करने का भी आरोप लगाया है. पीड़िता के परिवार ने आरोपियों पर 376 के मामले में फैसले का दबाव बनाने का आरोप लगाया है. उधर, पुलिस ने पीड़िता को अस्पताल में भर्ती करवा कर जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के मुताबिक, थाना बाबूगढ़ क्षेत्र के एक गांव में 2 सितंबर 2019 को गांव के दिलशाद ने पड़ोस की रहने वाली नाबालिग लड़की से रेप की घटना को अंजाम दिया था. जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी दिलशाद को जेल भेज दिया था. आरोपी दिलशाद अभी भी जेल में है और इसी मामले में आने वाली 7 तारीख को कोर्ट में पीड़िता की गवाही है. पीड़ित परिवार ने बताया कि मामले को लेकर लगातार फैसले के लिए दबाव बनाया जा रहा था, मना करने पर आज मारपीट व तेजाब से हमला किया गया. जिससे पीड़िता का एक पैर बुरी तरह झुलस गया. घटना की सूचना पुलिस को दी गई तो भारी फोर्स मौके पर पहुंचा और पीड़िता को अस्पताल भेजा गया.

घटना की जानकारी लगते ही एएसपी और फॉरेंसिक दल भी जांच के लिए मौके पर पहुंचा. एएसपी ने बताया कि दोनों पक्ष पड़ोसी और रिश्तेदार हैं. जिनके बीच पिछले काफी वक्त से मुकदमें बाजी चल रही है. लेकिन आज घर के सामने कूड़ा में पानी डालने को लेकर विवाद हुआ. जिसके बाद दोनों तरफ से मारपीट का मामला सामने आया है. युवती पर तेजाब डालने के मामले में जांच की जा रही है. युवती का एक पैर जख्मी हुए है. जिसको अस्पताल से उपचार के बाद छुट्टी मिल गई है. परिजनों की तहरीर पर जांच कर उचित कार्रवाई की जाएगी.