प्रियंका का रायबरेली प्लान, अदिति सिंह के भाई पर कांग्रेस की नजर, पार्टी में हो सकते हैं शामिल

प्रियंका का रायबरेली प्लान, अदिति सिंह के भाई पर कांग्रेस की नजर, पार्टी में हो सकते हैं शामिल

इसके साथ ही उन्होंने रायबरेली में यूपी में बिखरती कांग्रेस को बचाने के लिए प्रियंका गांधी ने नई रणनीति तैयार की. इसके तहत दूसरी पार्टियों के नेताओं को कांग्रेस में शामिल कराने की कोशिश हो रही है.

प्रियंका का रायबरेली प्लान, अदिति सिंह के भाई पर कांग्रेस की नजर, पार्टी में हो सकते हैं शामिल

रायबरेली: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) यूपी कांग्रेस (UP Congress) के नए पदाधिकारियों को टिप्स देने के लिए मंगलवार (22 अक्टूबर) को रायबरेली (Rae Bareli) पहुंची हैं. रायबरेली में ट्रेनिंग कैंप लगाया गया है, जिसमें AICC के कई सदस्य भी पदाधिकारियों को संगठन की मजबूती के गुर सिखाएंगे. 

रायबरेली पहुंचते ही प्रियंका गांधी ने चूरूआ हनुमान मन्दिर में  में पूजा-अर्चना की और आशीर्वाद लिया. इसके बाद प्रियंका गांधी भुएमऊ गेस्ट हाउस पहुंची, जहां, उन्होंने यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाए और सरकार पर निशाना साधा. 

इसके साथ ही उन्होंने रायबरेली में यूपी में बिखरती कांग्रेस को बचाने के लिए प्रियंका गांधी ने नई रणनीति तैयार की. इसके तहत दूसरी पार्टियों के नेताओं को कांग्रेस में शामिल कराने की कोशिश हो रही है. दरअसल, अदिति सिंह की बीजेपी के साथ बढ़ती नजदीकी से कांग्रेस नेतृत्व परेशान है. इसीलिए अब अदिति सिंह के चचेरे भाई मनीष सिंह को कांग्रेस में लाने की चर्चा है.

मनीष सिंह पूर्व सांसद अशोक सिंह के बेटे हैं और 2017 विधानसभा चुनाव में बीएसपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं. हालांकि चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. इसके बावजूद मौजूदा सियासी समीकरणों को साधने के लिए कांग्रेस की नज़र मनीष सिंह पर है. सूत्रों के मुताबिक, आज (23 अक्टूबर) मनीष सिंह अपने समर्थकों के साथ प्रियंका गांधी की मौजूदगी में कांग्रेस का दामन थाम सकते हैं. 

आपको बता दें कि रायबरेली से विधायक अदिति सिंह लगातार पार्टी लाइन से हटकर काम कर रही हैं.  उत्तर प्रदेश सरकार ने गांधी जयंती पर विधानमंडल का विशेष सत्र बुलाया था. कांग्रेस पार्टी ने इस सत्र का बहिष्कार किया था लेकिन प्रियंका गांधी की करीबियों में शुमार विधायक अदिति सिंह ने पार्टी द्वारा 36 घंटे के विशेष विधानसभा सत्र का बहिष्कार किए जाने के बाद भी सत्र में भाग लिया था.

लाइव टीवी देखें

इसके कुछ दिनों के बाद ही उन्होंने सीएम योगी से मुलाकात भी की थी. इस दौरान अदिति सिंह ने सीएम योगी की जमकर तारीफ भी की. उन्होंने कहा था कि मुख्यमंत्री विकास कार्यों को लेकर हमेशा बेहद संजीदा रहते हैं और विपक्ष के विधायकों को भी विकास के मुद्दे पर पूरी तरजीह देते हैं. 

Trending news