26 साल बाद फैजाबाद-अयोध्या में फहरा भगवा, भाजपा ने जीतीं सभी 5 सीटें

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी गठबंधन को 325 सीटों पर विजयी मिली है. ऐसा करीब 35 साल के बाद हुआ जब किसी पार्टी ने 300 से ज़्यादा सीटों पर कब्जा जमाया है. नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी-कांग्रेस गठबंधन जहां 54 सीटों पर सिमट गई तो वहीं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) भी सिर्फ 19 सीटों पर ही काबिज हो सकी.

26 साल बाद फैजाबाद-अयोध्या में फहरा भगवा, भाजपा ने जीतीं सभी 5 सीटें
26 साल बाद फैजाबाद-अयोध्या में फहरा भगवा

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी गठबंधन को 325 सीटों पर विजयी मिली है. ऐसा करीब 35 साल के बाद हुआ जब किसी पार्टी ने 300 से ज़्यादा सीटों पर कब्जा जमाया है. नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में समाजवादी पार्टी-कांग्रेस गठबंधन जहां 54 सीटों पर सिमट गई तो वहीं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) भी सिर्फ 19 सीटों पर ही काबिज हो सकी.

भाजपा के प्रचंड बहुमत ने उत्तर प्रदेश के अधिकांश हिस्सों को भगवा रंग में रंग दिया है. मगर फैजाबाद की पांच सीटें जिसमें अयोध्या भी शामिल है पर भाजपा ने 26 साल बाद अपनी विजयी पताका फहराई है. इससे पहले 1991 में ऐसा मौका आया था जब सभी सीटें भाजपा की झोली में आई थी. 

फैजाबाद की पांचों विधानसभा सीट का क्रमवार विवरण-

अयोध्या विधानसभा सीट: भारतीय जनता पार्टी के वेद प्रकाश गुप्ता ने अपने करीबी समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी तेज नारायण पांडे उर्फ पवन पांडे को करीब 50,440 वोटो से हराया. वेद प्रकाश गुप्ता को 107014 मत हासिल हुए, जबकि सपा के तेज नारायण पांडे को 56574 वोट मिले.  

2012 में हुए विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार तेज नारायण पांडे पवन ने भाजपा के लल्लू सिंह को हराया था. 

रुदौली विधानसभा सीट: भारतीय जनता पार्टी के रामचंद्र यादव ने अपने करीबी समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अब्बास अली जैदी उर्फ रुश्दी मियां को करीब 31259 वोटो से हराया. रामचंद्र यादव को 90,311 मत हासिल हुए, जबकि सपा के अब्बास अली को 59,052 वोट मिले.  

2012 में भी फैजाबाद की 5 विधानसभा सीटों में से मुस्लिम बहुल रुदौली ही एकमात्र ऐसी सीट थी जिस पर भाजपा को कामयाबी मिली. यहां रामचंद्र यादव ने समाजवादी पार्टी के अब्बास अली जैदी रुश्दी मियां को मात दी थी.

बीकापुर विधानसभा सीट: भारतीय जनता पार्टी के शोभा सिंह ने अपने करीबी समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आनंद सेन को 26652 वोटो से हराया. शोभा सिंह को 94074 मत हासिल हुए, जबकि सपा के आनंद सेन को 67422 वोट मिले. पूर्व सिंचाई मंत्री रहे और राष्ट्रीय लोकदल के वरिष्ठ नेता मुन्ना सिंह चौहान की पत्नी हैं. मुन्ना सिंह के निधन के बाद उनकी पत्नी शोभा सिंह ने भाजपा का दामन थाम लिया था.

गोसाईगंज विधानसभा सीट: भारतीय जनता पार्टी के इंद्र प्रताप उर्फ खब्बू तिवारी ने अपने करीबी समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अभय सिंह को 11620 वोटो से हराया. इंद्र प्रताप को 89586 मत हासिल हुए, जबकि सपा के अभय सिंह को 77966 वोट मिले. 2012 में हुए विधानसभा चुनाव में इंद्र प्रताप ने बहुजन समाज पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार अभय सिंह को कड़ी टक्कर दी थी.

मिल्कीपुर विधानसभा सीट: भारतीय जनता पार्टी के गोरख नाथ ने अपने करीबी समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी अवधेश प्रसाद को 28276 वोटों से हराया. गोरख नाथ को 86960 मत हासिल हुए, जबकि सपा के अवधेश प्रसाद को 58684 वोट मिले.