SP दफ्तर के बाहर शव रख परिजनों के साथ सपाइयों ने काटा हंगामा, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

परिजनों के मुताबिक 14 वर्षीय कुलदीप की भैंस दूसरे गांव के धर्मेंद्र के खेत में चली गई थी. जिसके बाद धर्मेंद्र ने भूपेंद्र और साधु के साथ मिलकर कुलदीप को लाठी-डंडों से बुरी तरह पीट दिया. 

SP दफ्तर के बाहर शव रख परिजनों के साथ सपाइयों ने काटा हंगामा, पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप
शव रख SP कार्यालय के बाहर हंगामा

शिवकुमार/शाहजहांपुर: उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में 14 वर्षीय कुलदीप नाम के लड़के की कथित तौर पर पिटाई से हुई मौत के बाद रविवार को परिजनों ने जमकर हंगामा काटा. घटना से गुस्साए परिजनों ने कुलदीप का शव एसपी ऑफिस के बाहर रखकर इंसाफ की गुहार लगाई. इस दौरान समाजवादी पार्टी के नेता और कार्यकर्ताओं का भी पीड़ित परिजनों को पूरा साथ मिला.

मामला सिधौली के नवादा सोनबरसा गांव का है. जहां, परिजनों ने गांव के 3 लोगों पर कुलदीप की हत्या का आरोप लगाया है. परिजनों के मुताबिक 14 वर्षीय कुलदीप की भैंस दूसरे गांव के धर्मेंद्र के खेत में चली गई थी. जिसके बाद धर्मेंद्र ने भूपेंद्र और साधु के साथ मिलकर कुलदीप को लाठी-डंडों से बुरी तरह पीट दिया. परिजनों ने बताया कि कुलदीप को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया लेकिन, इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई.

वहीं, आरोपियों की गिरफ्तारी न होने से गुस्साए परिजनों के साथ सपा जिलाध्यक्ष, सपा एमएलसी और पूर्व विधायक राजेश यादव आज पुलिस अधीक्षक के दफ्तर के सामने शव को लेकर बैठ गए. वहीं, भारी संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता भी पहुंच गए और जमकर हंगामा काटा. इस दौरान पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठा रहीं सपा एमएलसी रिंकू यादव की एसपी अपर्णा गौतम से बहस भी हो गई. उधर, पूर्व सपा विधायक राजेश यादव ने आरोप लयागा कि परिवार पर राजीनामे का दबाव बनाया जा रहा है और पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं कर रही है.

वहीं, एसपी कार्यालय के बाहर भीड़ की खबर के बाद भारी संख्या में पुलिस बल पहुंच गया. लंबे चली बहस के बाद पुलिस अधिकारियों ने आरोपियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई का आश्वासन देकर किसी तरह धरना खत्म करवाया. पुलिस ने फिलहाल इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया और बाकी 2 की तलाश शुरू कर दी है.