close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

राजस्थान के बाद नोएडा में भी स्वाइन फ्लू का कहर, अब तक 33 मामले आए सामने

चार और नए रोगियों की स्वाइन फ्लू के लिए जांच के नतीजे पॉजिटिव आने के बाद नोएडा में इस बीमारी के मरीजों की संख्या 33 हो चुकी है जबकि तीन लोग स्वाइन फ्लू से अपनी जान गवां चुके हैं.

राजस्थान के बाद नोएडा में भी स्वाइन फ्लू का कहर, अब तक 33 मामले आए सामने
फाइल फोटो

नोएडा: सेक्टर 30 स्थित राजकीय जिला संयुक्त चिकित्सालय के आपातकालीन विभाग में तैनात एक महिला डॉक्टर स्वाइन फ्लू की चपेट में आ गईं लेकिन उपचार के बाद वह अब पूरी तरह स्वस्थ हैं. डॉक्टर को स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) ने की है . 

चार और नए रोगियों की स्वाइन फ्लू के लिए जांच के नतीजे पॉजिटिव आने के बाद नोएडा में इस बीमारी के मरीजों की संख्या 33 हो चुकी है जबकि तीन लोग स्वाइन फ्लू से अपनी जान गवां चुके हैं.

जिला अस्पताल की इमरजेंसी में तैनात इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर (ईएमओ) को चार दिन पूर्व बुखार आया था. स्वाइन फ्लू के संदिग्ध लक्षणों को देखते हुए उन्होंने इसकी जांच कराई. एनसीडीसी ने उन्हें स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि की जिसके पश्चात उनका उपचार शुरू किया गया. उन्हें व उनके परिजनों को टैम्मी फ्लू वैक्सीन दी गई.

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनुराग भार्गव ने बताया कि चिकित्सक को स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि हुई है. उन्होंने बताया कि उपचार के पश्चात अब वह पूरी तरह से स्वस्थ हैं.

गौरतलब है कि जिले में पिछले साल स्वाइन फ्लू के सात रोगियों की पुष्टि हुई थी. इस वर्ष बीते साल की तुलना में अब तक स्वाइन फ्लू के रोगियों की संख्या पांच गुना हो चुकी है. स्वाइन फ्लू के बढ़ते मामलों से लोगों में दहशत है. 

(इनपुट भाषा)