जांच में खुला भेद, सर्जन ने ऑपरेशन के दौरान मरीज के पेट में छोड़ा सर्जिकल ब्लेड, दर्ज होगा केस

पीड़ित ने न्याय के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया जिसके बाद अदालत ने पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं.

जांच में खुला भेद, सर्जन ने ऑपरेशन के दौरान मरीज के पेट में छोड़ा सर्जिकल ब्लेड, दर्ज होगा केस
सांकेतिक फोटो.

आगरा: आगरा में एक सर्जन ने ऑपरेशन करते समय सर्जिकल ब्लड मरीज के पेट में ही छोड दिया. ऑपरेशन के दौरान हुई इस बड़ी लापरवाही के चलते मरीज को परेशानी का सामना करना पड़ा. पीड़ित के परिजनों का आरोप है कि अस्पताल  में जब इसकी शिकायत की तो उनके साथ अभद्रता की गई. पीड़ित ने न्याय के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया जिसके बाद अदालत ने पुलिस को मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं.

यह भी पढ़ें - योगी सरकार देगी 4.5 लाख युवाओं को डिजिटल वाला रोजगार, जानें- क्या है स्कीम?

क्या है पूरा मामला
दरअसल ललितपुर के रामनगर निवासी गौरव कुशवाह ने कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया, जिसमें उन्होंने बताया कि, पेट में दर्द होने पर 21 जून 2016 को बाईपास मार्ग​ स्थित सचखंड मौर्या हास्पिटल में लेप्रोस्कोपिक सर्जन डॉ. सिद्धार्थ धर मौर्या को दिखाया. उन्होंने अल्ट्रासाउंड कराने के बाद कहा कि पेट में पथरी है और आपरेशन कराने की सलाह दी. 22 जून को ऑपरेशन कर दिया गया, तीन दिन तक अस्पताल में भर्ती रखा, लेकिन पेट दर्द बंद नहीं हुआ. डॉक्टर ने दोबारा अल्ट्रासाउंड कराया, कुछ दवाएं दे दीं, इसके बाद भी पेट दर्द ठीक नहीं हुआ.

यह भी देखें - योगगुरु का ‘हस्ति योग’: भ्रामरी में ‘फेल’ तो अनुलोम-विलोम में ‘पास’ हुए रामदेव 

जांच कराने पर पता चला पेट में है सर्जिकल ब्लेड
पेट में लगातार दर्द रहने पर गौरव कुशवाह ने दिल्ली के अस्पताल में जांच कराई. जांच में पता चला कि उनके पेट में सर्जिकल ब्लेड है. इस लापरवाही की जानकारी होने के बाद उन्होंने 14 अक्टूबर 2019 को मौर्या हास्पिटल में शिकायत करने पहुंचे. आरोप है कि उनके साथ गाली गलौज और अभद्रता की गई. 

यह भी देखें - नींद में अस्पताल, शव नोंच रहे आवारा कुत्ते   

कोर्ट ने दिया मुकदमा दर्ज करने के आदेश
इसके बाद पीड़ित गौरव ने कई जगह शिकायत की लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं हुई तो उसने कोर्ट की शरण ली, और सभी दस्तावेज सबूतों के साथ पेश किए गए. इस मामले में न्यायिक मजिस्ट्रेट रुमाना अहमद ने डॉक्टर को दोषी मानते हुए थाना न्यू आगरा पुलिस को डॉक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं.

WATCH LIVE TV