अखिलेश यादव का ऐलान- समाजवादी पार्टी अब UP में किसी बड़े दल के साथ नहीं करेगी गठबंधन

आपको बता दें कि अखिलेश यादव ने साल 2017 का यूपी विधानसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन में लड़ा था. उन्होंने नारा दिया था, 'काम बोलता है.' हालांकि, सपा और कांग्रेस का यह गठबंधन फ्लॉप साबित हुआ और भाजपा ने उत्तर प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई. 

अखिलेश यादव का ऐलान- समाजवादी पार्टी अब UP में किसी बड़े दल के साथ नहीं करेगी गठबंधन
समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव.

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने साल 2022 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव में किसी भी दल के साथ गठबंधन नहीं करने की बात कही है. अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी यूपी असेंबली इलेक्शन 2022 में छोटे दलों के साथ एडजस्टमेंट करेगी, उन्हें साथ लेकर चलेगी.

अखिलेश ने कहा, 'समाजवादी पार्टी के सभी नेताओं की यही राय है, किसी भी बड़े दल के साथ कोई गठबंधन न किया जाए.' चाचा शिवपाल यादव के साथ संबंधों को लेकर भतीजे अखिलेश ने कहा, 'विधानसभा में चाचा की सदस्यता को लेकर जो याचिका कर दी गई थी, उसे वापस ले लिया गया है.'

श्रमिकों की वापसी के लिए CM योगी का प्लान, रोजगार के बाद अब किया ये ऐलान

शिवपाल की सपा में वापसी को लेकर अखिलेश यादव ने कहा, 'अभी तो उनकी एक पार्टी है. जरूरत पड़ी तो जसवंतनगर सीट पर एडजस्टमेंट हो जाएगा. लेकिन किसी से गठबंधन नहीं करेंगे. समाजवादी पार्टी, कांग्रेस और भाजपा से बराबर दूरी बनाकर काम करेगी. ऐसा लगता है कि भाजपा और कांग्रेस दोनों का रास्ता एक ही है.'

आपको बता दें कि अखिलेश यादव ने साल 2017 का यूपी विधानसभा चुनाव कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन में लड़ा था. उन्होंने नारा दिया था, 'काम बोलता है' और 'यूपी को ये साथ पसंद है.' हालांकि, सपा और कांग्रेस का यह गठबंधन फ्लॉप साबित हुआ और भाजपा ने उत्तर प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई.

दिल्ली-नोएडा बॉर्डर फिलहाल खुलने के आसार नहीं, सिर्फ पास वाली गाड़ियों को अनुमति

इसके बाद अखिलेश ने लोकसभा चुनाव 2019 में बसपा और आरएलडी के साथ गठबंधन किया. यह गठबंधन भी फ्लॉप रहा. बाद में मायावती ने सपा से गठबंधन तोड़ने और आगामी सभी चुनाव अकेले लड़ने का फैसला किया था.

WATCH LIVE TV