कन्नौज बस हादसा: अखिलेश ने योगी सरकार पर फोड़ा ठीकरा, पूछा- मानक से लंबी बस को प​रमिट क्यों

अखिलेश यादव ने कन्नौज में बस और ट्रक के बीच हुए भीषण सड़क हादसे के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को दोषी ठहराया है.

कन्नौज बस हादसा: अखिलेश ने योगी सरकार पर फोड़ा ठीकरा, पूछा- मानक से लंबी बस को प​रमिट क्यों

प्रमेंद्र कुमार/कन्नौज: उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अखिलेश यादव ने कन्नौज में  हुए बस हादसे के लिए योगी सरकार को दोषी ठहराया है. उन्होंने पूछा कि योगी सरकार ने मानक से अधिक लंबी बस को परमिट कैसे दे दिया? उन्होंने सरकार से कन्नौज हादसे में मृत व्यक्तियों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग की.

गौरतलब है कि कन्नौज में यात्रियों से भरी एक स्लीपर बस सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई. टक्कर होने के बाद बस और ट्रक दोनों में भीषण आग लग गई. इस दुर्घटना में 10 लोगों की मौत हो गई, जबकि 20 अन्य लोगों को गंभीर चोटें आई हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को 2-2 लाख और घायलों को 50-50 हजार रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है.

अखिलेश यादव ने नागरिकता संशोधन कानून को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा. फिरोजाबाद में उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि यह कानून गरीबों के खिलाफ है, कोई भी व्यक्ति इतने पुराने कागज कहां से लाएगा. उन्होंने 20 दिसम्बर को नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शन के दौरान मारे गए लोगो के परिजनों से भी भेंट की.

अखिलेश यादव ने मांग की कि इस मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट या फिर हाईकोर्ट के सिटिंग जज से कराई जाय. उन्होंने कहा कि पुलिस खुद दोषी है, वो इस मामले की जांच कैसे कर सकती है. उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून गलत है. अखिलेश ने सवाल किया कि अगर यह कानून गलत नहीं है तो फिर बीजेपी खुद लोगों को इसे समझाने के लिए सड़कों पर क्यों उतर रही है?

उन्होंने कहा कि जब लोगों के पास आधार कार्ड है तो फिर किसी अन्य दस्तावेज की क्यों जरूरत है? सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि यह कानून समाज को बांटने वाला है और पूरे देश में इसका विरोध हुआ है, यहां तक कि कॉलेज और यूनिवर्सिटी में भी इसका विरोध हुआ है.