close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सीएम रहते अखिलेश यादव ने दिया था बच्चे को लैपटॉप, घर पहुंचकर पूछा- चल रहा है ना

अखिलेश यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रशांत और उसकी बहन को लैपटॉप मिला था. 

सीएम रहते अखिलेश यादव ने दिया था बच्चे को लैपटॉप, घर पहुंचकर पूछा- चल रहा है ना
प्रशांत समाधिया फिलहाल एमटेक कर रहे हैं. (फाइल फोटो)

झांसी: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव गुरुवार को झांसी के बरुआसागर स्थित प्रशांत समाधिया नाम के युवक के घर पहुंचे. यहां अखिलेश यादव ने स्थानीय लोगों से भी मुलाकात की. दरअसल, अखिलेश यादव की लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान प्रशांत से मुलाकात हुई थी. उसी दिन वह हेलीकॉप्टर में प्रशांत को अपने साथ झांसी लेकर आये थे. झांसी में हुए एक कार्यक्रम में अखिलेश यादव ने प्रशांत को सम्मानित किया था. प्रशांत उस समय कक्षा 12 का छात्र था और अखिलेश यादव तब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे.

अखिलेश यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि प्रशांत और उसकी बहन को लैपटॉप मिला था. मैं इतने सालों बाद यह जानने आया था कि वह लैपटॉप चल रहा है या नहीं. मुझे खुशी है इस बात की कि बच्चे अभी पढ़ रहे हैं. लैपटॉप आज भी चल रहे हैं. उन्होंने कहा कि आज के समय में जो भी बच्चे आगे बढ़ना चाहते हैं, उनके पास लैपटॉप होगा, तो आगे बढ़ने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि इससे सीखने और समझने का ज्यादा मौका मिलेगा. अखिलेश ने कहा कि प्रशांत उस समय छोटा था. उसे अनुभव हेलीकॉप्टर में घूमने का अनुभव नहीं थी इसीलिए झांसी तक साथ लाया था. आज वह एमटेक कर रहा है.