close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पत्रकार की हत्‍या पर बोले अखिलेश यादव, 'उत्‍तर प्रदेश अब हत्‍या प्रदेश बन गया है'

पूर्व मुख्‍यमंत्री और सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि आखिर कानून व्‍यवस्‍था है कहां. जहां पहले विकास हो रहा था, वहां अब हत्‍या हो रही है. बीजेपी कुछ भी कर सकती है, वो किसी भी सीमा तक जा सकती है.

पत्रकार की हत्‍या पर बोले अखिलेश यादव, 'उत्‍तर प्रदेश अब हत्‍या प्रदेश बन गया है'
अखिलेश यादव ने साधा निशाना. फोटो ANI

नई दिल्‍ली : यूपी के सहारनपुर में हुई पत्रकार की हत्‍या के मामले में पूर्व मुख्‍यमंत्री और सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी सरकार पर निशाना साधा है. उन्‍होंने कहा कि उत्‍तर प्रदेश अब हत्‍या प्रदेश बन गया है. यूपी में आज लूटपाट बढ़ी हैं, हत्‍याएं बढ़ी हैं, ये सब घटनाएं बढ़ी हैं. उन्‍होंने कहा कि आखिर कानून व्‍यवस्‍था है कहां. जहां पहले विकास हो रहा था, वहां अब हत्‍या हो रही है. बीजेपी कुछ भी कर सकती है, वो किसी भी सीमा तक जा सकती है.

उत्‍तर प्रदेश के सहारनपुर में दबंगों ने कानून व्‍यवस्‍था को धता बताते हुए समाचार पत्र के पत्रकार और उसके भाई की घर में घुसकर हत्‍या कर दी. दबंगों ने पत्रकार के घर पर धावा बोला और दोनों पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं. इस घटना से गुस्‍साए इलाके के लोगों ने जमकर हंगामा किया. पुलिस को उन्‍हें शांत करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर कई लोगों को हिरासत में लिया है. उनसे पूछताछ की जा रही है. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने पत्रकार और उसके भाई की हत्‍या पर उनके परिजनों को 5-5 लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है.

देखें LIVE TV

यह वारदात सहारनपुर के कोतवाली सिटी इलाके के माधवनगर में हुई. बताया जा रहा है कि यहां समाचार पत्र के पत्रकार आशीष की कुछ लोगों से मामूली कहासुनी हुई थी. इस पर गुस्‍साए दबंगों ने घर पर धावा बोल दिया. उन्‍होंने आशीष और उसके भाई आशुतोष पर गोलियां बरसा दीं. आशुतोष की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि आशीष की मौत इलाज के दौरान हुई. 

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर स्‍थानीय लोगों की भीड़ जुट गई. लोगों ने इस घटना के खिलाफ हंगामा शुरू कर दिया. पुलिस को उन्‍हें शांत करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा. लोगों ने आरोप लगाया है कि पुलिस ने इस बाबत कई बार शिकायत की जा चुकी है. लेकिन इस ओर ध्‍यान नहीं दिया गया.