close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

खुफिया एजेंसियों की रडार पर क्यों आ गया UP का संभल, जानिए आतंकी आसिम उमर से पूरा कनेक्शन

आसिम उमर को जुलाई, 2018 में अमेरिका ने  ग्लोबल टेररिस्ट की लिस्ट में डाल दिया था. वर्ष 1991 में आसिम उमर ने दारुल उलूम देवबंद से ग्रैजुएशन किया था.

खुफिया एजेंसियों की रडार पर क्यों आ गया UP का संभल, जानिए आतंकी आसिम उमर से पूरा कनेक्शन
अमेरिका-अफगानिस्तान की संयुक्त कार्यवाही में मारे गए दक्षिण एशिया के अलकायदा सरगना आतंकी आसिम उमर का फिलहाल संभल में कोई परिजन या रिश्तेदार मौजूद नहीं बताया जा रहा है.

संभल: अमेरिका-अफगानिस्तान की संयुक्त कार्यवाही में मारे गए दक्षिण एशिया का अलकायदा कमांडर आसिम उमर (Asim Umar) का संभल (Sambhal) कनेक्शन सामने आया है. उत्तर प्रदेश के संभल से आतंकी आसिम उमर का कनेक्शन निकलने के बाद से ही ये हिस्सा खुफिया एजेंसियों के रडार पर आ गया है. वहीं, संभल में नखासा थाना क्षेत्र के दीपा सराय इलाके के लोगो ने इस मामले पर चुप्पी साध ली है. इलाके के लोग मीडिया से बात करने से बच रहे हैं. दरअसल, आतंकी आसिम उमर से कनेक्शन जुड़ने से पहले भी आतंकी इनपुट को लेकर संभल खुफिया एजेंसियों के रडार पर रहा है. 

कई महीने तक खंगाला गया था आतंकी कनेक्शन
ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि, 25 दिसंबर 2015 को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अलकायदा के इंडिया चीफ होने के आरोप में संभल के इसी इलाके से आसिफ को गिरफ्तार किया था. वहीं, 9 मार्च 2017 को लखनऊ में पुलिस कार्यवाही में मारे गए गए आतंकी सैफुल्ला के मोबाइल नंबर की कॉन्टेक्ट लिस्ट में भी संभल के 7 मोबाइल फोन नंबर पुलिस की स्पेशल सेल को मिले थे. इसके बाद खुफिया एजेंसियां कई महीने तक संभल में अलकायदा का आतंकी कनेक्शन खंगालती रही थी. 

 

पहले भी मिले हैं खुफिया एजेंसियों को इनपुट
अमेरिका-अफगानिस्तान की संयुक्त कार्यवाही में मारे गए दक्षिण एशिया के अलकायदा सरगना आतंकी आसिम उमर का फिलहाल संभल में कोई परिजन या रिश्तेदार मौजूद नहीं बताया जा रहा है. संभल से अब तक मिलते रहे आतंकी इनपुट के मामले में पुलिस के आला अफसर इस मामले को पुलिस की स्पेशल सेल और खुफिया एजेंसियों का मामला बताकर मीडिया को जानकारी देने से बचते रहे हैं.

संभल का रहने वाला थी आसिम उमर
बता दें कि अलकायदा का कमांडर मौलाना आसिम उमर उत्तर प्रदेश के संभल का रहने वाला था. आसिम उमर संभल के दीपा सराय इलाके में रहता था और सनाउल हक उर्फ सन्नू के नाम से जाना जाता था. आतंकी उमर 1990 के दशक के अंत में पाकिस्तान भाग गया था. आसिम उमर को जुलाई, 2018 में अमेरिका ने  ग्लोबल टेररिस्ट की लिस्ट में डाल दिया था. वर्ष 1991 में आसिम उमर ने दारुल उलूम देवबंद से ग्रैजुएशन किया था.