अलीगढ़ में कूड़े से बनाया ईको फ्रेंडली ईंट, पीएम देंगे खिताब

अलीगढ़ नगर निगम के अधीन इंटिग्रेटेड म्यूनिसिपल सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट के तहत इको फ्रेंडली ईंट बनाया गया.

अलीगढ़ में कूड़े से बनाया ईको फ्रेंडली ईंट, पीएम देंगे खिताब
ईको फ्रेंडली एक ईंट की कीमत करीब 30-35 रुपए है. (फोटो-ANI)

अलीगढ़: अलीगढ़ में नगर निगम के अधीन कार्य कर रही A टू Z में लगे प्लांट ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत बड़ी कामयाबी हासिल की है. यहां शहर से आने वाले कूड़े के ढेर से मैजिक ब्रिक (ईंट) तैयार की जा रही हैं, जिसको पूरे देश में सबसे पहले अलीगढ़ में ही बनाया गया है. अलीगढ़ के इस प्लांट में बनी ईंट के इस फॉर्मूले को मुंबई में होने वाले स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 'बेस्ट इनोग्रेशन अवॉर्ड इन इंडिया' देने जा रहे हैं, जो कि अलीगढ़ के लिए बड़े ही गौरव की बात है.

कूड़े से खाद भी बनाई जाती है
दरअसल, 2014 में जब केंद्र में मोदी सरकार बनी थी, तभी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन कार्यक्रम की शुरुआत की थी. इस कार्यक्रम का उद्देश्य भारत को स्वच्छ बनाना है जिसके तहत अलीगढ़ नगर निगम के अधीन इंटिग्रेटेड म्यूनिसिपल सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्रोजेक्ट A TO Z काम कर रही है. अलीगढ़ नगर निगम कर्मचारियों द्वारा शहर में हर घर के दरवाजे से कूड़े को उठाकर यहां प्लांट में एकत्रित किया जाता है. प्लांट में मशीनों द्वारा कूड़े को अलग-अलग किया जाता है. उसी कूड़े से ऑर्गेनिक मैटर और इन-ऑर्गेनिक मैटर बनाया जाता है. ऑर्गेनिक मैटर से खाद बनाई जाती है जो किसानों द्वारा खेती के लिए उपयुक्त होती है.

मौसम के अनुकूल काम करती है ईंट
कूड़े का दूसरा हिस्सा RDF ( Refuse Derived Fuel) बनाया जाता है. ATOZ में जो मैजिक ब्रिक (ईंट) बनाई गई है उसमें RDF को बीच में डाला जाता है. एक ईंट में करीब 4-5 किलोग्राम RDF होता है. RDF के अंदर पॉलिथीन, कपड़ा, सूखी कीचड़ और तमाम तरह के ठोस पदार्थ जो कूड़े में पाए जाते हैं, वह इसमें होते हैं. यह ईंट बहुत ही लाभदायक साबित हो सकती है, क्योंकि यह मौसम के अनुकूल काम करती ह. इस एक ईंट का वजन करीब 17 किलोग्राम होता है.

बेस्ट इनोग्रेशन अवॉर्ड इन इंडिया का मिला खिताब
बाजार में एक ईंट की कीमत करीब 30-35 रुपए है. इस ईंट का प्रयोग लखनऊ और अलीगढ़ शहर में कई जगह किया जा चुका है, जिसके अच्छे परिणाम सामने आ रहे हैं. जानकारी के अनुसार, अलीगढ़ के इस प्लांट में बनी मैजिक ब्रिक को भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी मुंबई में होने वाले स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 के कार्यक्रम में बेस्ट इनोग्रेशन अवॉर्ड इन इंडिया का खिताब देने जा रहे हैं. यह अलीगढ़ के लिए गौरव की बात है. दिल्ली से आई टीम ने सर्वे कर इसपर एक डॉक्यूमेंट्री शूट की, जिसे कार्यक्रम में दिखाया जाएगा.