छात्रों के उग्र प्रदर्शन के बाद इलाहाबाद विश्वविद्यालय हॉस्टल वॉश आउट का फैसला वापस

छात्रों के उग्र  विरोध प्रदर्शन के बाद इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने हॉस्टल खाली कराए जाने के फैसले पर फिलहाल अंतरिम रोक लगा दी है.

छात्रों के उग्र प्रदर्शन के बाद इलाहाबाद विश्वविद्यालय हॉस्टल वॉश आउट का फैसला वापस
प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने पुलिस पर पत्थरबाजी भी की. (फोटो-ANI)

इलाहाबाद: इलाहाबाद विश्वविद्यालय के हॉस्टलों को खाली कराए जाने के विश्वविद्यालय प्रशासन के निर्णय के बाद उग्र हुए छात्रों ने कई गाड़ियों में आग लगा दी और जमकर हंगामा काटा. पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे छात्रों को शांत कराने की बहुत कोशिश की, लेकिन छात्र मानने को तैयार ही नहीं हो रहे थे. आखिरकार, पुलिस ने 6 छात्रों को हिरासत में ले लिया है. विश्वविद्यालय परिसर में जगह-जगह पुलिस तैनात कर दी गई है. जिलाधिकारी और एसएसपी भी फोर्स के साथ मौके पर मौजूद हैं और घटना पर नजर बनाए हुए हैं. छात्रों के उग्र प्रदर्शन के मद्देनजर आसपास के बाजारों में सन्नाटा पसर गया है. जानकारी के मुताबिक, प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने पुलिस पर पत्थरबाजी भी की. विश्वविद्यालय प्रशासन ने 11 जून तक छात्रों को हॉस्टल खाली करने का नोटिस जारी किया है. 

 

 

ताजा जानकारी के मुताबिक,  विश्वविद्यालय प्रशासन ने अपने फैसले वापस ले लिया है. छात्रों द्वारा भारी हंगामे के चलते विश्वविद्यालय प्रशासन ने हॉस्टल खाली नहीं करवाने का फैसला लिया है. ऐसा भी कहा जा रहा है कि जून के महीने में कई परीक्षाएं प्रस्तावित होने की वजह विश्वविद्यालय प्रशासन ने यह फैसला लिया है. फिलहाल, हॉस्टल खाली करने के फैसले पर अंतरिम रोक लगी है.