SP-BSP के ब्राह्मण सम्मेलन पर केशव मौर्य का निशाना, बोले- मंदिर को देख मुंह मोड़ने वाले अब बन रहे सबसे बड़े पुजारी

प्रयागराज में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा- आगे-आगे देखिये, बहुत सारे लोग जो मंदिर को देखकर मुंह मोड़ लेते थे, वो आज मंदिर में जाकर सबसे बड़े पुजारी बने नजर आएंगे. इससे साफ है कि वह सत्ता के लिए कुछ भी करना चाहते हैं. 

SP-BSP के  ब्राह्मण सम्मेलन पर केशव मौर्य का निशाना, बोले- मंदिर को देख मुंह मोड़ने वाले अब बन रहे सबसे बड़े पुजारी
डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य.

मो.गुफरान/प्रयागराज: संगम नगरी प्रयागराज में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya ने समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के ब्राह्मण सम्मेलन  (Brahmin Sammelan) को लेकर निशाना साधा है. प्रयागराज में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा- आगे-आगे देखिये, बहुत सारे लोग जो मंदिर को देखकर मुंह मोड़ लेते थे, वो आज मंदिर में जाकर सबसे बड़े पुजारी बने नजर आएंगे. इससे साफ है कि वह सत्ता के लिए कुछ भी करना चाहते हैं. 

सोमवार को प्रयागराज में गंगा आरती के लिए पहुंचे बसपा महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा द्वारा आरती स्तुति वंदना के समय बैठे रहने को लेकर भी केशव प्रसाद मौर्य ने बगैर नाम लिए कहा कि हम लोग भी गंगा आरती में या फिर कहीं पर भी धार्मिक आयोजनों में जाते हैं, जिसकी जानकारी नहीं रहती है तो वहां पर आयोजन कर्ताओं से पूछते हैं. 

अगर जानकारी रहती है तो कार्यक्रम में लोग जैसे रहते हैं. उन्हीं की तरह हम लोग भी अपने आप को दर्शाने की कोशिश करते हैं. लेकिन जिस तरीके से वह बैठे रहे. इससे तीर्थ पुरोहित हो या फिर ब्राह्मण समाज सबकी नाराजगी स्वाभाविक है. 

 सतीश चंद्र मिश्रा ने समाज का ही नहीं मां गंगा का भी अपमान किया है, संतों ने दी ये चेतावनी

ब्राह्मणों को रिझाने में जुटे राजनीतिक दल
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के जरिए ब्राह्मणों को रिझाने की कोशिश कर रही है. जिसकी कमान बीएसपी प्रमुख मायावती ने सतीश चंद्र मिश्रा को सौंप दी है. वहीं, समाजवादी पार्टी ने पांच ब्राह्मण नेताओं की एक कमेटी बनाकर प्रदेश भर में ब्राह्मण समाज को जोड़ने के साथ ही परशुराम प्रतिमा स्थापित करने की बात कह रही है. जिसको लेकर लगातार तेज सियासत हो गई है.

WATCH LIVE TV

WATCH LIVE TV