close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CM योगी से मिले नीदरलैंड के राजदूत, निवेश पर बनी सहमति, तकनीक से करेंगे UP की मदद

मुख्यमंत्री निवास पर नीदरलैंड के राजदूत मार्टेन वेन डेन बर्ग ने योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की.

CM योगी से मिले नीदरलैंड के राजदूत, निवेश पर बनी सहमति, तकनीक से करेंगे UP की मदद
एमओयू साइन कर उत्तर प्रदेश सरकार और नीदरलैंड के बीच रिश्ते को और मजबूती देने पर भी जोर .(फाइल फोटो)

लखनऊ: आज मुख्यमंत्री निवास पर नीदरलैंड के राजदूत मार्टेन वेन डेन बर्ग ने योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की. इस दौरान दोनों देशों के बीच कृषि और उससे जुड़े उद्योगों, खाद्य प्रसंस्करण, ऊर्जा, नगर विकास, के विकास में अधिकाधिक तकनीकी सहयोग देने का वादा किया गया. मिशन क्लीन गंगा के अभियान में प्रभावी गति देने पर भी जोर दिया. मुख्यमंत्री योगी ने 2016 में हस्ताक्षरित एमओयू को गति देने की बात कही. इसी क्रम में विशेष परियोजनाओं और कार्यक्रमों में आपसी भागीदारी को बढ़ावा देने के साथ-साथ शैक्षिक यात्राओं और सार्वजनिक निजी भागीदारी को भी बढ़ावा देने के उद्देश्य से एमओयू को पांच साल के लिए बढ़ाया गया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि कुंभ 2019 में सरकार ने आधुनिकतम तकनीक का इस्तेमाल कर गंगा को निर्मल और अविरल बनाया. प्रमुख सचिव नगर विकास ने बताया कि सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट को लेकर मुजफ्फनरगर में 25 हेक्टेयर और गाजियाबाद में 35 हेक्टेयर जमीन में से 18 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहित कर ली गई जिसे जल्द ही नीदरलैंड की कंपनी को हस्तांतरित कर दी जाएगी. मुख्यमंत्री ने इस प्रक्रिया में तेजी लाने के निर्देश दिए.

प्रदेश में इंडस्ट्री, पावर, डेयरी, कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण, अतिरिक्त ऊर्जा स्रोत व अन्य कई क्षेत्रों में असीमित अवसर हैं. प्रमुख सचिव कृषि ने बताया कि कृषि के क्षेत्र में उन्नति को लेकर नीदरलैंड और उत्तर प्रदेश सरकार के सहयोग से एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी कानपुर में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना की की जानी है. नोएडा में फूलों की खेती को बढ़ावा देने के लिए भी सहयोग मांगा गया.

वहीं प्रमुख सचिव ऊर्जा ने उत्तर प्रदेश में हुए ऊर्जा क्षेत्र के विकास कार्यों को गिनाया. औद्योगिक विकास को लेकर प्रमुख सचिव ने बताया कि जेवर एयरपोर्ट पर सबसे बड़ा कार्गो हब भी तैयार हो रहा है जिसमे वो नीदरलैंड की तकनीक का सहयोग चाहेंगे. इसके साथ ही डैडिकेट फ्रेट कॉरिडोर के निर्माण में भी नीदरलैंड की भागीदारी की संभावना है.

वहीं मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पांडेय ने डेयरी प्रोडक्शन को लेकर नीदरलैंड से आधुनिक तकनीक के सहयोग की बात कही.वहीं नीदरलैंड के राजदूत ने आलू प्रसंस्करण व कोल्ड चेन की स्थापना, चिकित्सा, रोड सेफ्टी तथा सड़क निर्माण के बाबत चर्चा की. प्रदेश सरकार ने नए क्षेत्र में नीदरलैंड के साथ एमओयू साइन कर उत्तर प्रदेश सरकार और नीदरलैंड के बीच रिश्ते को और मजबूती देने पर भी जोर दिया.