आजमगढ़ में आंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने पर बवाल, गुस्साए लोगों की आगजनी

अधिकारियों की ओर से नई प्रतिमा स्थापित करने तथा आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद लोग शांत हुए. फिलहाल इलाके में तनाव को देखते हुए एहतियातन पीएसी तैनात की गई है.

आजमगढ़ में आंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने पर बवाल, गुस्साए लोगों की आगजनी
गुस्साएं सैकड़ों की संख्या में जुटे लोगों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन किया.

आजमगढ़: उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के अहरौला थानाक्षेत्र के माहुल कस्बे में बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर की प्रतिमा क्षतिग्रस्त होने से आक्रोशित दलित समुदाय के सैकड़ों ने लोगों ने जमकर बवाल किया और आगजनी की. पुलिस के मुताबिक, अधिकारियों की ओर से नई प्रतिमा स्थापित करने तथा आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद लोग शांत हुए. फिलहाल इलाके में तनाव को देखते हुए एहतियातन पीएसी तैनात की गई है.

पुलिस ने बताया कि बुधवार-गुरुवार की दरमियानी रात शरारती तत्वों ने माहुल तिराहे पर पुलिस बूथ के सामने लगी आंबेडकर प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया. गुरुवार सुबह यह देखकर दलित समाज के लोग आक्रोशित हो गये. सैकड़ों की संख्या में जुटे लोगों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया.

उन्होंने बताया कि इस दौरान किसी ने बगल में स्थित पुलिस चौकी पर पथराव शुरू कर दिया. इसके बाद वहां भगदड़ मच गयी और कस्बे की दुकानें धड़ाधड़ बंद हो गयीं. इसी बीच कस्बे के दूसरे छोर पर आगजनी शुरू हो गयी. पुलिस के अनुसार आला अधिकारी कई थानों के पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को समझा-बुझाकर किसी तरह मामले को शांत कराया.

पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने बताया कि क्षतिग्रस्त प्रतिमा के स्थान पर नई प्रतिमा लगवाई जा रही है और घटना में शामिल लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी. कस्बे में स्थिति अब सामान्य है.