अमेठी के DM ने मृतक के भाई का कॉलर पकड़कर बदसलूकी की, योगी सरकार ने पद से हटाया

अमेठी जिलाधिकारी प्रशांत कुमार एक हत्याकांड के बाद उग्र हुए परिजनों को समझाने के दौरान अपना आपा खो बैठे थे. 

अमेठी के DM ने मृतक के भाई का कॉलर पकड़कर बदसलूकी की, योगी सरकार ने पद से हटाया

अमेठी: यूपी (Uttar Pradesh) के अमेठी (Amethi) में जिलाधिकारी की अभद्रता का वीडियो वायरल होने के बाद उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की जा रही थी. वहीं, अब अमेठी के डीएम प्रशांत कुमार को हटाकर प्रतीक्षा सूची में डाल दिया गया है. दरअसल, अमेठी जिलाधिकारी प्रशांत कुमार एक हत्याकांड के बाद उग्र हुए परिजनों को समझाने के दौरान अपना आपा खो बैठे थे. बता दें कि अमेठी में बीते मंगलवार की देर शाम सोनू सिंह को दबंगों ने गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था. 

वहीं, इस मामले का वीडियो वायरल होने के बाद अमेठी की सांसद स्मृति ईरानी ने भी डीएम को संवेदनशील बनने की सलाह दी थी. सांसद स्मृति ईरानी ने ट्विटर पर लिखा, "विनय शील एवं संवेदनशील बनें हम, यही प्रयास होना चाहिए. जनता के हम सेवक है, शासक नहीं".

दरअसल, अमेठी की गौरीगंज कोतवाली थाना क्षेत्र के बिसुनदासपुर गांव में एक शख्स की हत्या कर दी गई थी. मामले की गंभीरता के चलते मौके पर पहुंची एसपी ख्याति गर्ग को हत्या के बाद गुस्साई भीड़ को समझाने की बजाए अमेठी के डीएम प्रशांत शर्मा अपना आपा खो बैठे और मृतक के भाई और पेशे से पीसीएस अधिकारी का कॉलर पकड़कर डांटने लगे.

पूरा मामला गौरीगंज कोतवाली थाना क्षेत्र के बिसुनदासपुर गांव का है. मृतक भट्टा व्यवसायी था. गौरतलब है कि गंभीर मामला देख मौके पर पहुंची एडीएम वन्दिता श्रीवास्तव और एसपी ख्याति गर्ग को भी परिजनों का विरोध झेलना पड़ा था.