UP: मंदाकिनी नदी के किनारे तुलसीदास जी सुनाएंगे राम कथा, रामघाट पर होगा लेजर शो

रामघाट पर लेजर शो के माध्यम से वाटर स्क्रीन पर एनिमेशन फ़िल्म दिखाई जाएगी.  

UP: मंदाकिनी नदी के किनारे तुलसीदास जी सुनाएंगे राम कथा, रामघाट पर होगा लेजर शो
तुलसीदास जी सुनाएंगे रामकथा

ओंकार सिंह/चित्रकूट: धार्मिक नगरी चित्रकूट धाम को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा आध्यात्मिक पर्यटन हब बनाने की कोशिश की जा रही है. उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग ने जहां मंदाकिनी नदी के रामघाट में काशी की तर्ज पर गंगा आरती शुरू की है. वहीं अब जल्द ही रामघाट पर लेजर शो के माध्यम से वाटर स्क्रीन पर एनिमेशन फ़िल्म दिखाई जाएगी.  

तुलसीदास जी सुनाएंगे रामकथा
लेजर-शो के माध्यम से देश-दुनिया से आने वाले लाखों श्रदालु चित्रकूट के महत्व को और बेहतर ढंग से जान सकेंगे. इस शो में तुलसीदास जी लोगों को रामकथा और चित्रकूट के ऐतिहासिक एवं पौराणिक स्थलों के महत्व सुनाते नजर आयेंगे.

मंदाकिनी के रामघाट पर लेजर शो
वहीं पर्यटन अधिकारी शक्ति ने बताया कि भगवान श्री राम की कर्मभूमि चित्रकूट में प्रतिदिन हजारों श्रद्धालु आते हैं. यहां वह तमाम ऐतिहासिक एवं पौराणिक स्थलों को देख नहीं पाते हैं, ऐसे में उन्हें चलचित्र के माध्यम से तुलसीदास खुद उन स्थलों का महत्व बताएंगे. इसे मंदाकिनी के रामघाट पर वाटर स्क्रीन पर प्रोजेक्शन लेजर शो के माध्यम से दिखाया जाएगा. जंहा भगवान राम के वन गमन मार्ग को चित्रों के जरिए दिखाते हुए रामचरित मानस सुनाइए देगी.

श्रद्धालु के लिए नई सौगात
मंदाकिनी नदी के रामाघट पर होने वाले लेजर शो को लेकर श्रद्धालु भी खुश हैं. रामघाट आने वाले श्रद्धालु गंगा आरती के साथ लेजर शो भी देखे सकेंगे. जिससे 3 से 4 घंटे तक श्रद्धालुओं को भक्ति की गंगा में डुबकी लगाने का अवसर मिलेगा. यह लेजर शो चित्रकूट के लिए और यहां आने वाले पर्यटकों के लिए एक नई सौगात है.