close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

ट्रैफिक पुलिस ने बोनट पर डंडा मार रुकवाई कार, हुई बहस, चालक की मौत

Traffic Challan: खबर मीडिया में आने के बाद एसएचओ इंदिरापुरम ने बताया कि परिजनों की शिकायत पर अज्ञात ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है. 

ट्रैफिक पुलिस ने बोनट पर डंडा मार रुकवाई कार, हुई बहस, चालक की मौत
पुलिस मामले में जांच की बात कर रही है.

गाजियाबाद: नए ट्रैफिक चालान नियमों (Traffic challan rules) के लागू चहोने के बाद रोज नई-नई खबरें सामने आ रही है. नोएडा (NOIDA) में ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) से बहस के बाद एक शख्स की मौत के बाद ताजा मामला दिल्ली (Delhi) की सीमा से लगे गाजियाबाद (Ghaziabad) से सामने आया है, जहां ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की वजह से एक और घर का चिराग बुझ गया. घटना चार दिन पुरानी बताई जा रही है. 

दरअसल, चार दिन पहले नोएडा के सेक्टर- 62 में गौरव अपने परिवार के साथ गाड़ी से जा रहा था, तभी अचानक ट्रैफिक पुलिसकर्मियों ने उन्हें रोकने की कोशिश की और एक ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने उनकी गाड़ी के बोनट में डंडा मारते हुए गाड़ी रोकने का इशारा किया, जिसके बाद उन्होंने गाड़ी साइड की और कॉस्टेबल के बर्ताव पर बहस भी हुई. इसी बहस में अचानक गौरव बेहोश हो गया. 

आरोप है कि पुलिसकर्मी यह सब देखकर वहां से भाग गए और उसके बाद परिवार जैसे-तैसे अस्पताल लेकर गए. लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी, जिसके बाद सीमा विवाद पर नोएडा पुलिस और गाजियाबाद पुलिस चार दिनों तक खामोश बैठी रही.

खबर मीडिया में आने के बाद एसएचओ इंदिरापुरम ने बताया कि परिजनों की शिकायत पर अज्ञात ट्रैफिक पुलिसकर्मियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है. मामले की जांच की जा रही है. हैरान करने वाली बात ये है कि घटना स्थल पर कौन सा पुलिसकर्मी था, इसकी जानकारी गाजियाबाद पुलिस को अब तक नहीं हो सकी है.