close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

खुशखबरी...उत्तराखंड में आज से शुरू होगी अटल आयुष्मान योजना, मिलेगा 5 लाख तक का मुफ्त इलाज

'अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना' के तहत सभी प्रदेशवासियों को नि:शुल्क स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करने वाला उत्तराखंड देश का पहला प्रदेश होगा.

खुशखबरी...उत्तराखंड में आज से शुरू होगी अटल आयुष्मान योजना, मिलेगा 5 लाख तक का मुफ्त इलाज
रेसकोर्स स्थित बन्नू स्कूल के मैदान में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत योजना का शुभारंभ करेंगे. (फाइल फोटो)

देहरादून: उत्तराखंड में अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना आज (25 दिसंबर) से शुरू हो जाएगी. रेसकोर्स स्थित बन्नू स्कूल के मैदान में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत योजना का शुभारंभ करेंगे. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन पर शुरू हो रही इस योजना में 60 साल से अधिक आयु के बुजुर्गों और 14 साल तक की आयु के बच्चों को सरकार निशुल्क ओपीडी की सुविधा देने जा रही है. 

'अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना' के तहत सभी प्रदेशवासियों को नि:शुल्क स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करने वाला उत्तराखंड देश का पहला प्रदेश होगा. यह योजना प्रदेश में मंगलवार से लागू हो रही है. उत्तराखंड को अलग राज्य का दर्जा दिलवाने वाले दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस 25 दिसंबर को शुरू की जा रही इस योजना के तहत प्रति परिवार प्रति वर्ष पांच लाख रुपये के नि:शुल्क इलाज की सुविधा मिलेगी. 

सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार, अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजना है और उनके निर्देश पर राज्य के सभी लोगों को नि:शुल्क इलाज की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए तमाम होमवर्क करते हुए योजना तैयार की गई है.  

भारत की आर्थिक सामाजिक एवं जातीय जनगणना 2011 में चयनित लगभग 10 करोड़ परिवारों को स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना प्रारम्भ की गई. इस जनकल्याणकारी योजना के अन्तर्गत उत्तराखण्ड के लगभग 5.37 लाख परिवारों को चिन्ह्ति किया गया है, जिन्हें प्रति परिवार पांच लाख रुपये तक प्रति वर्ष की निःशुल्क चिकित्सा सुविधा एवं उपचार देने का कार्य प्रारम्भ हो गया है. 

मुख्यमंत्री रावत के निर्देश पर आयुष्मान भारत योजना के दायरे को बढ़ाते हुए उत्तराखण्ड सरकार द्वारा अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना प्रारम्भ की जा रही है, जिसमें प्रदेश के सभी परिवारों को प्रतिवर्ष पांच लाख रूपये तक की चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायी जाएगी. इस प्रकार उत्तराखंड के लगभग 23 लाख परिवारों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा प्राप्त हो सकेगी. 

यह सुविधा राज्य के सरकारी चिकित्सालयों एवं सूचीबद्ध निजी चिकित्सालयों में दी जाएगी. आपात स्थिति में सूचीबद्ध निजी चिकित्सालयों में उपचार के लिए सीधे भर्ती होने पर यह सुविधा मिलेगी. लेकिन अन्य मामलों में सरकारी चिकित्सालय से रेफर करने के आधार पर निजी चिकित्सालयों से उपचार के लिए यह सुविधा उपलब्ध होगी. 

अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के सुचारू रूप से संचालन हेतु सरकार द्वारा सभी सरकारी चिकित्सालयों के साथ-साथ निजी चिकित्सालयों को सूचीबद्ध करने का कार्य किया जा रहा है.