close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

किसानों की जमीन कब्‍जाने के 29 मुकदमों में आजम खान ने कोर्ट से मांगी अग्रिम जमानत, सुनवाई आज

आजम खान ने जमीन कब्‍जाने के मामलों में अग्रिम जमानत के लिए रामपुर की जिला कोर्ट में याचिका दायर की है. इस मामले की सुनवाई आज होगी.

किसानों की जमीन कब्‍जाने के 29 मुकदमों में आजम खान ने कोर्ट से मांगी अग्रिम जमानत, सुनवाई आज
आजम खान के खिलाफ दर्ज हैं 29 केस. फाइल फोटो

रामपुर : रामपुर की जौहर यूनिवर्सिटी के नाम पर किसानों की जमीन कब्‍जाने के मामले में कई मुकदमों में आरोपी बने सपा सांसद आजम खान ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. आजम खान ने जमीन कब्‍जाने के मामलों में अग्रिम जमानत के लिए जिला कोर्ट में याचिका दायर की है. इस मामले की सुनवाई आज होगी. बता दें कि आजम खान के खिलाफ जमीन कब्‍जाने के करीब 29 मामले दर्ज हैं.

देखें LIVE TV

बता दें कि गुरुवार को ही सपा सांसद आजम खान के खिलाफ एक मामले में गैर इरादतन हत्‍या और भैंस चोरी के भी केस दर्ज हुए हैं. सपा सरकार में घोसिखाना के मकान तुड़वाने और भैंसे चोरी करवाने, लूटपाट जैसे मुकदमों में आजम खान व पूर्व सीओ आले हसन सहित 6 लोगों पर मुकदमे दर्ज हो गए हैं. थाना कोतवाली में 11 पीड़ितों ने तहरीर दी, जिसके आज 4 मुकदमे दर्ज हो गए हैं. इनमें 2 मुकदमों में भैंस चोरी कराने के भी मामले हैं. एक पीड़ित ने आजम खान पर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा भी दर्ज करवाया है. तोड़फोड़ के बाद उनकी मां की दहशत के कारण मौत हो गई थी.

बता दें कि यतीमखाना बस्ती की रहने वाली 90 साल की बुजुर्ग महिला शहजादी बेगम सहित 40 बेहद गरीब परिवार कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष फैसल खान लाला के नेतृत्व में लंबे समय से आजम खान पर कार्यवाही की मांग कर रहे थे. आरोप है कि सपा सरकार में 2016 में आजम खान ने मंत्री रहते हुए यतीमो की जगह पर नाजायज कब्‍जा किया था. सरायगेट यतीमखाना बस्ती के लगभग 40 परिवार 50-60 सालों से यतीमखाने में रहते थे जिसकी किरायेदारी की रसीदें और वक्‍फ विभाग का आवंटन दस्‍तावेज भी लोगों के पास मौजूद हैं.

आरोप है कि 15 अक्टूबर, 2016 को हमारा आवंटन रातोंरात निरस्त कर दिया गया और बलपूर्वक यतीमो को न सिर्फ मारापीटा गया बल्कि उनके घरों का सामान, भैंसें तक लूट ली गईं. उसी दौरान शहजादी बेगम नाम की एक महिला को मारा पीटा गया था. इसके चलते अगले दिन उनकी दहशत के कारण मृत्यु हो गई थी. बाद में उनको घरों से निकालकर उनके घरों पर बुलडोजर चला दिया गया था.

पीड़ित परिवारों ने पुलिस अधीक्षक को मुकदमा दर्ज कराने को तहरीर दी है, जिस पर जाकिर, आसिफ, नन्ने और मुन्ने की तहरीर पर पुलिस ने सांसद आजम खान, तत्कालीन सीओ आले हसन, एसओजी सिपाही धर्मेंद्र सहित कई लोगों पर धारा 304, 452, 354ख 389, 427, 448, 395, 504, 506, 120बी के तहत थाना कोतवाली में चार अलग अलग मुकदमे दर्ज किए हैं.