close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी के बस स्‍टेशनों पर ढाई करोड़ की लागत से बनेंगे बेबी मिल्‍क फीडिंग रूम

उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के एमडी के अनुसार यह पूरी कार्यप्रणाली 15 सितंबर से शुरू हो जाएगी. उनका कहना है कि हम लोग टारगेट लेकर चल रहे हैं कि 3 महीने में पूरे प्रदेश के 219 बस स्टेशनों पर इस तरह की व्यवस्था शुरू हो जाए.

यूपी के बस स्‍टेशनों पर ढाई करोड़ की लागत से बनेंगे बेबी मिल्‍क फीडिंग रूम
बस स्‍टेशनों पर महिलाओं को बच्‍चों को मिल्‍क फीडि़ंग कराने में सहूलियत होगी. फाइल फोटो

लखनऊ : उत्‍तर प्रदेश में महिलाओं को सार्वजनिक स्‍थानों पर भी बच्‍चों को मिल्‍क फीडिंग कराने में परेशानी ना हो, इसके लिए उत्‍तर प्रदेश परिवहन निगम बड़ी योजना पर काम कर रहा है. उत्तर प्रदेश परिवहन निगम एमडी राजशेखर ने ज़ी न्‍यूज को बताया कि ढाई करोड़ रुपये की लगात से एक योजना तैयार की गई है. इसके तहत प्रदेश के बस स्‍टेशनों में कुल 219 बेबी फीडिंग रूम बनाए जाएंगे. 

एमडी के अनुसार यह पूरी कार्यप्रणाली 15 सितंबर से शुरू हो जाएगी. उनका कहना है कि हम लोग टारगेट लेकर चल रहे हैं कि 3 महीने में पूरे उत्तर प्रदेश के 219 बस स्टेशनों पर इस तरह की व्यवस्था शुरू हो जाए. अधिकांश महिलाओं को अपने बच्चों को सफर में साथ ले जाना पड़ता है. ऐसी स्थिति में यह एहसास किया गया कि इस तरह की रूम की आवश्यकता हर बस स्टेशन पर है. 

देखें LIVE TV

उन्‍होंने बताया कि ऐसी माताएं जो अपने नवजात शिशु लेकर किसी काम के लिए जा रहे हैं और हमारी बसों की सेवाएं ले रही हैं उसी के लिए पिछले 1 महीने से कार्य योजना बन रही थी. पिछली बोर्ड मीटिंग में इस पूरी योजना पर परिवहन निगम ने स्वीकृति दी है. हर एक बस स्टेशन पर एक बेबी फीडिंग रूम होना चाहिए.

एमडी के मुताबिक बेबी फीडिंग रूम में 2 केबिन रहेंगे. इनमें दो महिलाएं बच्‍चों को मिल्‍क फीडिंग करवा सकती हैं. इसके साथ ही बाहर में एक यूटिलिटी केबिन भी बनाया गया है. जहां पर बच्चों के कपड़े चेंज करना हो या फिर डायपर चेंज करना हो उस तरह की चीजों के लिए इन केबिन में प्राइवेसी का काफी ध्यान रखा गया है. 23 बस अड्डे निर्माण के लिए पीपीपी मॉडल पर जा रहे हैं.