close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

चमोली के लामबगड़ में 'पत्थरों की बरसात', बदरीनाथ हाईवे फिर बंद, हजारों यात्री फंसे

Badrinath Highway: सोमवार (30 सितंबर) की सुबह महज 3 घंटे के लिए हाईवे खोला गया, जिससे यात्रियों ने राहत की सांस ली. लेकिन एक बार फिर हाईवे बंद होने से परेशानी बढ़ गई है. 

चमोली के लामबगड़ में 'पत्थरों की बरसात', बदरीनाथ हाईवे फिर बंद, हजारों यात्री फंसे
पहाड़ी से लगातार गिर रहे पत्थरों की वजह से पैदल यात्रियों को भी आवाजाही में दिक्कत हो रही है.

चमोली: चमोली (Chamoli) के लामबगड़ में बदरीनाथ हाईवे (Badrinath Highway) एक बार फिर बंद हो गया है. बारिश (Rains) की वजह से पहाड़ी से लगातार मलबा गिर रहा है, जिसकी वजह से हाईवे खोलने में भी दिक्कत हो रही है. हाईवे बंद होने से हजारों यात्री फंसे हुए हैं.  सोमवार (30 सितंबर) की सुबह महज 3 घंटे के लिए हाईवे खोला गया, जिससे यात्रियों ने राहत की सांस ली. लेकिन एक बार फिर हाईवे बंद होने से परेशानी बढ़ गई है. पहाड़ी से लगातार गिर रहे पत्थरों की वजह से पैदल यात्रियों को भी आवाजाही में दिक्कत हो रही है.

बदरीनाथ मार्ग लामबगड़ में लगातार हो रही बारिश के कारण भूस्खलन के कारण बंद एक बार फिर से बंद हो गया है, जिसकी वजह से यात्रियों को खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. पहाड़ों से लगातार पत्थर गिर रहे हैं. पहाड़ी से गिरते पत्थर कब नीचे पैदल चलते यात्रियों के लिए खतरा साबित हो जाएं इसको देखते हुए ही यात्रा को एक बार फिर से रोक दिया गया है.

लाइव टीवी देखें

हजारों यात्री मार्ग के दोनों ओर फंसे पड़े हैं. वहीं सैकड़ों गाड़ियों की कतार मार्ग के दोनों ओर लगी हुई है. स्थानीय लोगों का कहना है कि बारिश बंद होने के बाद कुछ घंटे के लिए मार्ग को दोबारा खोला जाता है, लेकिन फिर बारिश हो जाती है. बारिश के साथ ही पहाड़ों से पत्थर गिर रहे है. कोई अनहोने न हो, इसलिए रास्ते को बंद कर दिया जा रहा है.