एक साल पहले हुई थी शादी, दहेज नहीं मिला तो महिला को जला दिया जिंदा, केस दर्ज

 मृतका के परिजनों का आरोप है कि करीब एक साल पहले उन्होंने अपने बेटी की शादी हुई थी. उसके बाद से ही ससुराली उसे दहेज के लिए परेशान कर रहे थे. 

एक साल पहले हुई थी शादी, दहेज नहीं मिला तो महिला को जला दिया जिंदा, केस दर्ज
पुलिस ने तहरीर के आधार पर 9 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है.

बागपत: बागपत के दौघट थाना इलाके में एक महिला की संदिग्ध परिस्तिथियों में मौत होने का मामला सामने आया है. मृतका के मायके वालों ने ससुराल पक्ष के लोगों पर दहेज के लिए जिंदा जलाकर हत्या करने का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी है. मृतका के परिजनों का आरोप है कि करीब एक साल पहले उन्होंने अपने बेटी की शादी हुई थी. 

मृतका के परिजनों का आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुराल वाले दहेज के लिए उसे प्रताड़ित करते थे, जिसके चलते ही जिंदा जलाकर उसकी हत्या कर दी और पुलिस को सूचना दिए बिना ही उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया. पुलिस ने तहरीर के आधार पर 9 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है और पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है.  

मामला दौघट थाना इलाके का है, जहां हरियाणा राज्य के पानीपत जिले में रहने वाली कोमल के माता-पिता की कुछ साल पूर्व मौत हो चुकी थी और उसकी बुआ प्रीति ने भतीजी कोमल की शादी 20 जुलाई 2018 को झुंडपुरा गांव में रहने वाले सुभाष सिंह के लड़के गौरव के साथ बड़ी ही धूमधाम से की थी.  उन्होंने अपनी हैसियत के मुताबिक, शादी में दहेज में सभी सामान दिया था, लेकिन ससुराल पक्ष के लोग उसे दहेज कम लाने की बात कहकर प्रताड़ित किया करते थे. 

मृतक के परिजनों का आरोप है कि ससुराल पक्ष के लोगों ने दहेज को लेकर उनकी बेटी कोमल की जिंदा जलाकर हत्या कर दी और बगैर पुलिस और परिजनों को सूचना दिए ही अंतिम संस्कार कर दिया. उन्होंने पुलिस को बताया कि पड़ोसियों की सूचना के बाद वह जब गांव पहुंचे, लेकिन तब अंतिम संस्कार हो चुका था.

शिकायत के बाद जब पुलिस आरोपी ससुरालवालों के घर पहुंचे, तो मौके से आरोपी फरार हो गए. पुलिस ने मृतका के परिजनों की तहरीर पर ससुराल पक्ष के पति गौरव, सास सरला, ससुर सुभाष समेत 9 लोगों के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज कराया है. पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी की कोशिश में जुटी है.