बहराइच: 6 साल की बच्ची को घर से उठा ले गया तेंदुआ, तलाश के दौरान मिला सिर

 ग्रामीणों की सूचना पर मौक़े पर पहुंची पुलिस और वन विभाग की टीम की कड़ी मशक्कत के बाद सुबह बच्ची का सिर से 300 मीटर की दूरी पर गन्ने के खेत में बरामद हुआ. 

बहराइच: 6 साल की बच्ची को घर से उठा ले गया तेंदुआ, तलाश के दौरान मिला सिर

राजीव शर्मा/बहराइच: बहराइच जिले के कतर्नियाघाट इलाके में तेंदुए का आतंक जारी है. दो दिन के भीतर आदमखोर तेंदुए के हमले में 2 मासूमों की जान चली गई. दरअसल तेंदुआ बीती रात घर में घुसकर एक बच्ची को उठाकर ले गया. रात भर चले सर्च ऑपरेशन के बाद सुबह  6 वर्षीय बच्ची का सिर बरामद हुआ. धड़ की तलाश की जा रही है.

क्या है पूरा मामला
दरअसल पूरा मामला चंदनपुर गांव के मजरे कलन्दरपुर का है. जहां बीती रात देवतादीन यादव की 6 वर्षीय बेटी अंशिका आंगन में खेल रही थी. इसी दौरान परिवार वालों के सामने तेंदुआ उसे जबड़े में दबोचकर खेत की तरफ ले गया. पिता की चीख-पुकार सुन दौड़े आसपास के ग्रामीणों ने शोर मचाते हुए बच्ची को ढूंढने का काफी प्रयास किया लेकिन बच्ची का पता नहीं चल सका. 

जिसके बाद ग्रामीणों की सूचना पर मौक़े पर पहुंची पुलिस और वन विभाग की टीम की कड़ी मशक्कत के बाद सुबह बच्ची का क्षत-विक्षत सिर घऱ से 300 मीटर की दूरी पर गन्ने के खेत में बरामद हुआ. धड़ की तलाश अभी भी जारी है. घटना से इलाके के लोगों में दहशत का माहौल है. स्थानीय ग्रामीणों द्वारा घटना की सूचना मोतीपुर वन रेंज व कार्यालय प्रभागीय वन अधिकारी को फोन द्वारा दी गई. तेंदुए को पकड़ने के लिये पिंजरा लगाकर तलाश की जा रही है.

पहले भी हो चुकी है घटना
आपको बता दें, इससे एक दिन पहले खाले बढ़ैया गांव के रहने वाले राममनोरथ के 6 साल के बेटे अभिनंदन को भी तेंदुए ने अपना अपना शिकार बनाया था. हमले में गंभीर रूप से घायल बच्चे को तत्काल इलाज के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा था, लेकिन रास्ते में ही उसने दमतोड़ दिया.

WATCH LIVE TV