बांदा: बच्चे स्कूल से बाहर कर रहे थे दोपहर का भोजन, अंदर शिक्षिका ने लगा ली फांसी

शिक्षिका ने तीन साल पहले अनिकेत कुशवाहा (24) से अंतर्धार्मिक प्रेम विवाह किया था और कुछ माह पूर्व दोनों ने आपसी रजामंदी से अदालत में तलाक की अर्जी भी दाखिल की थी.

बांदा: बच्चे स्कूल से बाहर कर रहे थे दोपहर का भोजन, अंदर शिक्षिका ने लगा ली फांसी
प्रतीकात्मक तस्वीर

बांदा: उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के गिरवां थाने के छिबांव गांव की प्राथमिक पाठशाला में तैनात एक शिक्षिका ने गुरुवार को विद्यालय के कमरे (कक्षा) में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. यह जानकारी एएसपी लाल भरत कुमार पाल ने दी. घटना के समय छात्र क्लास रूम से बाहर दोपहर का भोजन खाने क्लास रूम से बाहर गए थे. 

एसीपी ने बताया कि मूल रूप से झांसी जिले की रहने वाली शिक्षिका शबनम (33) जिले में गिरवां थाने के छिबांव गांव की प्राथमिक पाठशाला में सहायक अध्यापिका के पद पर तैनात थीं. गुरुवार को उसने क्लास रूम में उस समय फांसी लगा ली, जब बच्चे दोपहर का भोजन खाने क्लास रूम से बाहर गए थे. अन्य अध्यापक कमरे का दरवाजा तोड़कर शिक्षिका को फंदे से नीचे उतारकर उसे अस्पताल ले जा रहे थे, लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया.  

उन्होंने बताया कि शिक्षिका मूल रूप से झांसी जिले बरुआसागर की रहने वाली है. उसने तीन साल पहले अनिकेत कुशवाहा (24) से अंतर्धार्मिक प्रेम विवाह किया था और कुछ माह पूर्व दोनों ने आपसी रजामंदी से अदालत में तलाक की अर्जी भी दाखिल की थी. घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. घटना की सूचना मृतका के परिजनों को दे दी गई है और जांच शुरू कर दी गई है.