तस्करी के लिए बिहार ले जा रहे थे करोड़ों की शराब, बीच रास्ते बरेली पुलिस ने धरा

एसपी देहात फतेहगंज पश्चिमी पुलिस के साथ नेशनल हाई-वे पर चेकिंग करा रहे थे. तभी सूचना मिली कि आलू से भरे एक ट्रक में हरियाणा से अवैध शराब तस्करी के लिए बिहार ले जाई जा रही है.

तस्करी के लिए बिहार ले जा रहे थे करोड़ों की शराब, बीच रास्ते बरेली पुलिस ने धरा
पुलिस ने बरामद शराब के साथ चंडीगढ़ निवासी एक तस्कर को भी गिरफ्तार किया है.

बरेली: बरेली (Bareilly) की फतेहगंज पश्चिमी थाना पुलिस ने चेकिंग के दौरान दिल्ली-लखनऊ हाईवे (Delhi-Lucknow Highway) से आलू की बोरियों से छिपाकर ले जाई जा रही अवैध शराब (Illegal liquor) से भरा ट्रक बरामद किया है. पुलिस ने बरामद शराब के साथ चंडीगढ़ (Chandigarh) निवासी  एक तस्कर को भी गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक, ट्रक में 801 अंग्रेजी शराब की पेटियां भरी हुई थी, जो तस्करी के लिए हरियाणा (Haryana) से बिहार (Bihar) जा रही थी. इस अवैध शराब की कीमत एक करोड़ रुपये से अधिक आंकी गई है. 

मामले की जानकारी देते हुए एसएसपी ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से शराब की तस्करी की सूचना मिल रही थी, जिसको लेकर एसपी देहात फतेहगंज पश्चिमी पुलिस के साथ नेशनल हाई-वे पर चेकिंग करा रहे थे. तभी सूचना मिली कि आलू से भरे एक ट्रक में हरियाणा से अवैध शराब तस्करी के लिए बिहार ले जाई जा रही है.

सूचना मिलने के बाद पुलिस ने बड़े ट्रक को रोक लिया, जिसमें  801 पेटी अवैध शराब बरामद हुई. बरामद की गई शराब की कीमत लगभग एक करोड़ से अधिक बताई जा रही है.  ये तस्कर ट्रक में शराब की पेटियां भरकर उसके बाद आलू की बोरियों से शराब को छिपाकर बिहार ले जा रहे थे. 

दरअसल, शराबबंदी के बाद बिहार में चार गुनी कीमत पर शराब की बिक्री होती है, जिसको लेकर शराब तस्कर हरियाणा से माल खरीद कर बिहार में बेचते हैं. फिलहाल पुलिस ने चंडीगढ़ निवासी एक तस्कर को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा पुलिस इस तस्करी गैंग के अन्य सदस्यों की भी तलाश कर रही है.