सतपाल महाराज को कोरोना के बाद सियासी घमासान, कांग्रेस के आरोपों पर BJP ने किया पलटवार

कांग्रेस नेता सूर्यकांत धस्माना ने आरोप लगाया कि कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने क्वॉरंटाइन के नियम का उल्लंघन किया. उनके घर पर क्वॉरंटाइन का नोटिस चस्पा होने के बावजूद वे कैबिनेट बैठक में शामिल हुए.

सतपाल महाराज को कोरोना के बाद सियासी घमासान, कांग्रेस के आरोपों पर BJP ने किया पलटवार
फाइल फोटो

देहरादून: त्रिवेंद्र सरकार में पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज में कोरोना की पुष्टि के बाद उत्तराखंड में सियासत तेज हो गई है. एक तरफ जहां, कांग्रेस कोरोना को लेकर लापरवाही बरतने के आरोप में सतपाल महाराज पर कार्रवाई की मांग कर रही है, तो वहीं बीजेपी ने पलटवार करते हुए करारा जवाब दिया है.

कांग्रेस ने की सतपाल महाराज के खिलाफ कार्रवाई की मांग
कांग्रेस नेता सूर्यकांत धस्माना ने आरोप लगाया कि कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने क्वॉरंटाइन के नियम का उल्लंघन किया. उनके घर पर क्वॉरंटाइन का नोटिस चस्पा होने के बावजूद वे कैबिनेट बैठक में शामिल हुए. वहीं, PCC चीफ ने त्रिवेंद्र सरकार पर दोहरा चरित्र अपनाने का आरोप लगाया. प्रीतम सिंह ने कहा कि सतपाल महाराज के मामले में सरकार को वही कार्रवाई करनी चाहिए जो आम लोगों के साथ की जा रही है. लेकिन, कांग्रेस के लोगों पर सरकार तुरंत मामले दर्ज कर देती है लेकिन अपने मंत्री के मामले में चुप्पी साध रखी है.

बुनियाद आरोप लगा रही कांग्रेस: बीजेपी
उधर, बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष खजान दास ने कहा कि त्रिवेंद्र सरकार कोरोना की रोकथाम के लिए उत्तराखंड में मुस्तैदी के साथ काम कर रही है. लेकिन, कांग्रेस पार्टी को कुछ काम नहीं है. महामारी के दौर में भी कांग्रेस बेबुनियाद आरोप लगाने तक सिमटी हुई है. जब कांग्रेस को लोगों की मदद करनी चाहिए, तब कांग्रेस सामने नहीं आई और अब सिर्फ आरोप लगा रही है.

(इनपुट: देहरादून से रामानुज और कुलदीप नेगी)