close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

यूपी के हापुड़ में बदमाशों ने BJP नेता पर ताबड़तोड़ बरसाईं गोलियां, अस्‍पताल में हुई मौत

BJP leader: हापुड़ में मंडल महामंत्री राकेश शर्मा की गोली मारकर की गई हत्‍या.

यूपी के हापुड़ में बदमाशों ने BJP नेता पर ताबड़तोड़ बरसाईं गोलियां, अस्‍पताल में हुई मौत
बीजेपी नेता की हत्‍या. फाइल फोटो

हापुड़ : उत्तर प्रदेश (uttar pradesh) के हापुड़ जिले के थाना धौलाना में पुलिस चौकी से चंद कदम की दूरी पर बीजेपी नेता (BJP leader) की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इसस इलाके में दशहत फैल गई. बाइक सवार तीन बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर बीजेपी नेता को मौत के घाट उतार दिया. इसके बाद सभी फरार हो गए. बदमाशों की गोली से मरने वाले राकेश शर्मा बीजेपी के मंडल महामंत्री थे. घटना की सूचना पाकर पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की जांच में जुट गए हैं. हापुड़ के पुलिस अधीक्षक ने इस पर बड़ी कार्रवाई करते हुए इंस्पेक्टर धौलाना सुबोध सक्सेना सहित दो पुलिसकर्मियों को सस्‍पेंड कर दिया है.

उत्तर प्रदेश के जनपद हापुड़ के धौलाना में गांव कर्णपुर के रहने वाले बीजेपी के मंडल महामंत्री राकेश शर्मा जनता इंटर कॉलेज में कर्मचारी भी थे. वह सोमवार सुबह अपने स्कूल के लिए जा रहे थे, तभी रास्ते में तीन बाइक सवार बदमाशों ने उनकी बाइक को रोककर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी और मौके से फरार हो गए. 

देखें LIVE

बीजेपी नेता को आनन-फानन में हापुड़ के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहां उनकी इलाज के दौरान मौत हो गई. दिनदहाड़े हुई हत्या की वारदात सुनते ही आला अधिकारी भारी पुलिस फोर्स के साथ अस्पताल पहुंचे और परिजनों से घटना की जानकारी के भाजपा नेता के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

वहीं पुलिस के आला अधिकारी ने बताया कि आज सुबह जब यह अपने स्कूल जा रहे थे तभी समाना चौकी के पास कुछ अज्ञात बदमाशों ने इनको गोली मारी है जिसमें यहां अस्पताल में इनके उपचार के दौरान मौत हो गई. 

पुलिस के अनुसार यह पता लगाया जा रहा है कि गोली किसने और क्यों मारी है. इस घटना का खुलासा जल्द से जल्द कर दिया जाएगा. हालांकि पुलिस मामले की जांच के बाद खुलासे की बात तो कर रही है. मगर बताया जा रहा है कि पिछले दिनों मृतक के गांव में बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या की गई थी. उस हत्या में पैरवी भी कर रहे थे.