हमारी पार्टी हिंसा और तोड़फोड़ के खिलाफ, कार्यकर्ता शांति बनाए रखें- बसपा प्रमुख मायावती

उन्‍होंने कहा कि एनआरसी को जबरन देश में लागू किया जा रहा है. हमारी पार्टी नागरिकता कानून का विरोध करती है. बीएसपी के सभी कार्यकर्ता शांति बनाए रखें.

हमारी पार्टी हिंसा और तोड़फोड़ के खिलाफ, कार्यकर्ता शांति बनाए रखें- बसपा प्रमुख मायावती
फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली : नागरिकता कानून में हुए संशोधन (Citizenship Amendment Act) के खिलाफ देशभर में हो रहे विरोध-प्रदर्शन के बीच बहुजन समाज पार्टी (BSP) की प्रमुख मायावती (Mayawati) ने स्‍पष्‍ट तौर पर कहा है कि बसपा किसी भी तरह कि हिंसा और तोड़फोड़ के खिलाफ है और उनकी पार्टी किसी भी तरह की हिंसा का समर्थन नहीं करती. साथ ही उन्‍होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील भी की. 

दरअसल, गुरुवार को उत्‍तर प्रदेश के लखनऊ (Lucknow) और संभल (Sambhal) के साथ-साथ कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन हुए. इस दौरान उपद्रवियों ने पथराव किया और वाहनों को आग लगा दी, जबकि संभल में दो सरकारी बसों को आग के हवाले किया गया. अपुष्ट खबर है कि पेट में गोली लगने से एक प्रदर्शनकारी की मौत हो गई.

इसके बाद बसपा प्रमुख मायावती ने आज बयान जारी करते हुए कहा कि हमारी पार्टी हिंसा और तोड़फोड़ के खिलाफ है. हम किसी भी तरह की हिंसा का समर्थन नहीं करते. 

उन्‍होंने कहा कि एनआरसी को जबरन देश में लागू किया जा रहा है. हमारी पार्टी नागरिकता कानून का विरोध करती है. बीएसपी के सभी कार्यकर्ता शांति बनाए रखें.