उन्नाव: 90% झुलस चुकी दुष्कर्म पीड़िता ने एक किलोमीटर पैदल चलकर लगाई थी मदद की गुहार

बताया जा रहा है कि गंभीर रूप से जल चुकी महिला ने ग्रामीण के फोन से खुद 112 पर कॉल किया और पुलिस को आपबीती सुनाई. जिसके बाद पीआरवी और एम्बुलेंस मौके पर पहुंची.

उन्नाव: 90% झुलस चुकी दुष्कर्म पीड़िता ने एक किलोमीटर पैदल चलकर लगाई थी मदद की गुहार
घर के बाहर काम कर रहे व्यक्ति से पीड़िता ने मदद की गुहार लगाई थी.

उन्नाव: बिहार थाना क्षेत्र के हिंदूनगर गांव में दुष्कर्म पीड़िता को जिंदा जलाने की कोशिश के मामले में नया खुलासा हुआ है. 90 प्रतिशित जल चुकी पीड़िता करीब एक किलोमीटर तक पैदल चली और मदद की गुहार लगाई. बताया जा रहा है कि घर के बाहर काम कर रहे व्यक्ति से पीड़िता ने मदद की गुहार लगाई थी.

गंभीर रूप से जल चुकी महिला ने ग्रामीण के फोन से खुद 112 पर कॉल किया और पुलिस को आपबीती बताई. जिसके बाद पीआरवी और एम्बुलेंस मौके पर पहुंची.

पुलिस के अनुसार, पीड़िता का इलाज लखनऊ के सिविल अस्पताल के बर्न यूनिट में किया जा रहा है. पीड़िता 90 फीसदी जल गई है और उसकी हालत लगातार गंभीर बनी हुई है. प्लास्टिक सर्जन सहित कई डॉक्टरों की टीम पीड़िता का इलाज कर रही है. वहीं, पीड़िता को देखने के लिए एडीजी जोन एसएन सावंत भी सिविल अस्पताल पहुंचे हैं.

पुलिस का कहना है कि पीड़िता को जलाने के मामले में हरिशंकर त्रिवेदी, रामकिशोर त्रिवेदी, उमेश बाजपेयी व रेप के आरोपित शिवम द्विवेदी और शुभम द्विवेदी को गिरफ्तार कर लिया गया है. दुष्कर्म पीड़िता को जलाने के मामले में पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए चार आरोपियों को पकड़ लिया था. वहीं, फरार चल रहे मुख्य आरोपी शिवम द्विवेदी ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया है. मामले के सारे आरोपी फिलहाल पुलिस की गिरफ्त में हैं. वहीं, पीड़िता का कहना है कि आरोपी पक्ष उसपर मुकदमा वापस लेने का दबाव बना रहा था. इसी के चलते आरोपियों ने जान से मारने की कोशिश की.