लखनऊ: शांत माहौल के बाद भी प्रशासन ने बढ़ाया इंटरनेट शटडाउन, जानिए इसकी वजह

राजधानी में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा होने के बाद इंटरनेट सेवाएं 19 दिसंबर से बंद हैं. 

लखनऊ: शांत माहौल के बाद भी प्रशासन ने बढ़ाया इंटरनेट शटडाउन, जानिए इसकी वजह
एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह कदम पीएम मोदी के दौरे को देखते हुए लिया गया है.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में इंटरनेट शटडाउन को अब बुधवार मध्यरात्रि तक के लिए बढ़ा दिया गया है. शटडाउन का मंगलवार को पांचवां दिन है. बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लखनऊ दौरे से ठीक पहले शटडाउन की अवधि बढ़ा दी गई है. पीएम मोदी पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती के अवसर पर लोक भवन में उनकी प्रतिमा का अनावरण करेंगे. जिला अधिकारी अभिषेक प्रकाश ने सोमवार रात निर्णय लेते हुए कहा कि शटडाउन दो दिनों के लिए बढ़ा दिया गया है.

राजधानी में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा होने के बाद इंटरनेट सेवाएं 19 दिसंबर से बंद हैं. जिससे क्रिसमस पर ई-कॉमर्स व्यवसाय बुरी तरह प्रभावित हुआ है और उपभोक्ताओं के डेबिट या क्रेडिट कार्ड्स का प्रयोग करने में असमर्थ होने के कारण विभिन्न व्यापारों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है. इसके अलावा फूड डिलीवरी तथा कैब सेवाएं भी बुरी तरह प्रभावित हुई हैं. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि यह कदम पीएम मोदी के दौरे को देखते हुए लिया गया है.

बता दें कि लखनऊ पुलिस ने नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में लखनऊ में हुए हिंसक प्रदर्शनों के मास्टरमाइंड को गिरफ्तार कर लिया है. लखनऊ पुलिस ने हिंसा भड़काने के लिए नदीम, वसीम और अशफाक को गिरफ्तार किया है. ये सभी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के सदस्य हैं. पुलिस ने इन लोगों के पास से भारी संख्या में भड़काऊ और आपत्तिजनक साहित्य बरामद किया है.