संभल : पैसा लेने के बावजूद शौचालय ना बनवाने वाले 46 लोगों के खिलाफ केस

चंदौसी की अधिशासी अधिकारी अमिता वरुण ने रविवार को इसकी जानकारी.

संभल : पैसा लेने के बावजूद शौचालय ना बनवाने वाले 46 लोगों के खिलाफ केस
(फाइल फोटो)

संभल : संभल जिले के चंदौसी थाना क्षेत्र में स्वच्छ भारत अभियान के तहत सरकारी अनुदान लेने के बावजूद शौचालय नहीं बनवाने पर 46 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया है. चंदौसी की अधिशासी अधिकारी अमिता वरुण ने रविवार को बताया कि चंदौसी क्षेत्र में लगभग 400 लोगों ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण के लिए चार-चार हजार रूपए का अनुदान लिया था लेकिन जांच के दौरान पाया गया कि इन लोगों ने शौचालय नहीं बनवाया.

उन्‍होंने बताया कि इसी को लेकर इन 46 लोगों के खिलाफ अमानत में खयानत के आरोप में शनिवार को मुकदमा दर्ज कराया गया. आगे भी अन्य लोगों को चिह्नित करके उनके खिलाफ ऐसी ही कार्रवाई की जाएगी. बता दें कि भारत में चलाए जा रहे स्वच्छता मिशन पर अगस्‍त में विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने संतोष जाहिर किया था.

डब्ल्यूएचओ का कहना है कि स्वच्छता के मामले में भारत की प्रगति संतोषजनक है और अगर यह प्रगति इसी रफ्तार में बढ़ती रही तो भारत निश्चित ही 2019 तक स्वच्छता मिशन में 100 फीसदी की कामयाबी हासिल कर लेगा. 

इस अभियान के शुरू होने के बाद से भारत में उल्टी-दस्त जैसे संक्रामक रोगों से होने वाली मौतों पर काफी हद तक अंकुश लगा है और इस अभियान के पूरा होने पर देश में उल्टी-दस्त तथा प्रोटीन-ऊर्जा कुपोषण (पीईएम) से होने वाली हर साल 3 लाख मौतों को रोका जा सकता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा था कि स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के शुरुआती सर्वे से साफ हो गया है कि इस अभियान से खुले में शौच करने वालों की संख्या में लगातार काफी कमी आ रही है और गंदगी के कारण होने वाली समयपूर्व मौत और बीमारियों पर भी अंकुश लग रहा है.