उन्‍नाव गैंगरेप : पीड़िता के पिता को फर्जी केस में फंसाने वाले पुलिसकर्मियों पर चलेगा केस

इसी साल 13 अप्रैल को इस संबंध में उन्नाव थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था. बाद में सीबीआई ने इस मामले में तीन एफआईआर दर्ज की थीं. 

उन्‍नाव गैंगरेप : पीड़िता के पिता को फर्जी केस में फंसाने वाले पुलिसकर्मियों पर चलेगा केस
3 पुलिसकर्मी हैं मामले में हैं आरोपी. फाइल फोटो

नई दिल्‍ली : उन्‍नाव रेप केस में रविवार को बड़ा घटनाक्रम हुआ है. रेप केस के मुख्य आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के कहने पर पीड़िता के पिता को फर्जी मुकदमे में जेल भेजने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा चलाने की शासन ने मंजूरी दे दी है. इस मामले में माखी थाने के तत्कालीन थाना प्रभारी अशोक सिंह भदौरिया, सब इंस्पेक्टर कांता प्रसाद सिंह और दीवान आमिर नामजद हुए थे. इस मामले की जांच सीबीआई कर रही थी. सीबीआई इस मामले में तीनों आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट भी दायर कर चुकी है.

उन्'€à¤¨à¤¾à¤µ गैंगरेप केस : गवाह यूनुस का बिसरा रखा गया सुरक्षित, शव दोबारा होगा दफन
फाइल फोटो

इसी साल 13 अप्रैल को इस संबंध में उन्नाव थाने में मुकदमा दर्ज हुआ था. बाद में सीबीआई ने इस मामले में तीन एफआईआर दर्ज की थीं. इसमें मुख्‍य आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनके भाई अतुल सिंह सेंगर समेत कई लोगों के खिलाफ मामले में फजी केस लिखाने और पीडि़ता के पिता को फंसाने का आरोपी बनाया गया है.

बता दें कि उन्नाव के बांगरमऊ से बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनके भाई अतुल सिंह समेत कई लोगों पर एक माखी गांव की एक युवती ने रेप का आरोप लगाया है. इसी मामले में बाद में पीडि़ता के पिता की मौत भी हो गई थी. परिवार ने उनकी हत्‍या का आरोप लगाया था. मामले में यूपी सरकार ने सीबीआई जांच कराने के आदेश दिए थे. बता दें कि उन्‍नाव रेप केस के आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनका भाई और आरोपी पुलिसकर्मी जेल में हैं.