मौलाना साद की बढ़ी मुश्किलें: तबलीगी जमात को बैन करने की मांग, शामली के फॉर्म हाउस पर CBI का छापा

उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक आयोग ने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर तबलीगी जमात को बैन करने की मांग की है. आयोग का कहना है कि तबलीगी जमात के लोग मस्जिदों में छिपकर बैठे हैं और कोरोना संक्रमण फैलाने का काम कर रहे हैं.

मौलाना साद की बढ़ी मुश्किलें: तबलीगी जमात को बैन करने की मांग, शामली के फॉर्म हाउस पर CBI का छापा

शामली: निजामुद्दीन मरकज के मौलाना साद की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. एक तरफ तबलीगी जमात को बैन करनी की मांग उठी है तो वहीं उसके पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शामली स्थित फार्म हाउस पर सीबीआई ने छापा मारा है.

ये भी पढ़ें: कानून तोड़ने वाले तबलीगी जमा​तियों पर योगी सरकार सख्त, क्वॉरंटीन के बाद 288 भेजे गए जेल

तबलीगी जमात को बैन करनी की मांग
उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक आयोग ने मुख्य सचिव को पत्र लिखकर तबलीगी जमात को बैन करने की मांग की है. आयोग का कहना है कि तबलीगी जमात के लोग मस्जिदों में छिपकर बैठे हैं और कोरोना संक्रमण फैलाने का काम कर रहे हैं.

शामली में मौलाना साद के फार्म हाउस पर छापा
शामली के कांधला में मौलाना साद के फार्म हाउस पर गुरुवार को दिल्ली की क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस ने छापेमार कार्रवाई की. करीब डेढ़ घंटे चली कार्रवाई में क्राइम ब्रांच की टीम ने फार्म हाउस को खंगालने के साथ-साथ मौलाना साद के परिजनों से भी पूछताछ की. हालांकि, क्राइम ब्रांच की टीम ने किसी भी मीडिया के सवाल का जवाब नहीं दिया.

ये भी पढ़ें: कानून तोड़ने वाले तबलीगी जमा​तियों पर योगी सरकार सख्त, क्वॉरंटीन के बाद 288 भेजे गए जेल

बिना किसी सवाल का जवाब दिए वापस लौटी टीम
मौलाना साद के फार्म हाउस से निकलकर क्राइम ब्रांच और पुलिस की टीम एक बार फिर कांधला थाने पहुंची. जहां करीब आधे घंटे तक दोनों में बातचीत चली. इसके बाद क्राइम ब्रांच की टीम दिल्ली रवाना हो गई. कांधला थाना एसएचओ कर्मवीर सिंह ने बताया कि 5 लोगों की टीम आई थी, जिन्होंने मौलाना साद के घर पर छापेमारी की और उनके परिजनों से पूछताछ की.