close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

खनन घोटाले को लेकर CBI की छापेमारी, यूपी-उत्तराखंड में 11 जगहों पर पड़ी रेड

CBI Raids: सहारनपुर में ग्लोकल यूनिवर्सिटी के लिए मनमाने ढंग से जमीन खरीदने और अवैध खनन को लेकर सीबीआई ने रेड मारी है. इकबाल के सहारनपुर और मिर्ज़ापुर स्थित दोनों आवास पर सीबीआई की छापेमारी जारी है साथ ही खबर ये भी है कि मिर्ज़ापुर वाले आवास पर सीबीआई इकबाल से पूछताछ कर रही है.

खनन घोटाले को लेकर CBI की छापेमारी, यूपी-उत्तराखंड में 11 जगहों पर पड़ी रेड
फाइल फोटो

नई दिल्ली: खनन घोटाले (Mining Scam) को लेकर सीबीआई (CBI) उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) और उत्तराखंड (Uttarakhand) में 11 जगहों पर छापेमारी कर रही है. सीबीआई की टीम लखनऊ (Lucknow), देहरादून (Dehradun) और सहरानपुर (Saharanpur) के अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी (Raid) चल रही है. 

देहरादून के जीएमएस रोड और मोहित नगर इलाके में खनन कारोबारी के घर और ऑफिस में CBI की टीम छापेमारी कर रही  है. वहीं, सहारनपुर में CBI की टीम ने बीएसपी के पूर्व MLC इकबाल के आवास पर छापा मारा है. 

बताया जताया जा रहा है कि सहारनपुर में ग्लोकल यूनिवर्सिटी के लिए मनमाने ढंग से जमीन खरीदने और अवैध खनन को लेकर सीबीआई ने रेड मारी है. इकबाल के सहारनपुर और मिर्ज़ापुर स्थित दोनों आवास पर सीबीआई की छापेमारी जारी है साथ ही खबर ये भी है कि मिर्ज़ापुर वाले आवास पर सीबीआई इकबाल से पूछताछ कर रही है.

लाइव टीवी देखें

 आपको बता दें यूपी में अवैध खनन का मामला सपा सरकारी में साल 2012 से 2016 के बीच का है. अवैध खनन के इस खेल का भंडाफोड़ करने के लिए 2016 में इलाहाबाद हाईकोर्ट में दो याचिकाएं दायर की गईं थीं. इन पर सुनवाई करते हुए 28 जुलाई 2016 को हाईकोर्ट ने जांच के आदेश दिए थे. हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई ने मामले की जांच शुरू की तो उसे साल 2012 से 2016 तक हमीरपुर जिले में बड़े पैमाने पर अवैध खनन के सबूत मिले. अवैध खनन से सरकार को बड़े पैमाने पर राजस्व की क्षति पहुंचाई गई थी. उस वक्त चर्चित आइएएस अधिकारी बी चंद्रकला हमीरपुर की जिलाधिकारी थीं. उन पर भी अवैध खनन में शामिल होने और मनमाने तरीके से खनन के पट्टे बांटने का आरोप हैं.