UP Board Result 2020: रिजल्ट कुछ भी हो, बच्चों को तनाव और डिप्रेशन से इस तरह बचाए रखें
X

UP Board Result 2020: रिजल्ट कुछ भी हो, बच्चों को तनाव और डिप्रेशन से इस तरह बचाए रखें

बच्चे को मन मुताबिक रिजल्ट (UP Board Result 2020) न मिलने पर उसे ये समझाएं कि सफलता और असफलता जीवन का हिस्सा हैं. कई बार माता-पिता बच्चों से ज्यादा खुद ही निराश हो जाते हैं, लेकिन इस बात को समझने की जरूरत है कि बच्चों का मन कोमल होता है. 

UP Board Result 2020: रिजल्ट कुछ भी हो, बच्चों को तनाव और डिप्रेशन से इस तरह बचाए रखें

एशिया का सबसे बड़ा परीक्षा बोर्ड उत्‍तर प्रदेश माध्‍यम‍िक श‍िक्षा बोर्ड (UP Board Results 2020) अपनी आध‍िकार‍िक वेबसाइट पर 10वीं और 12वीं का रिजल्ट (UP Board Result 2020) घोषित कर रहा है. कई बार ऐसा होता है कि छात्रों के मन में रिजल्ट को लेकर समीकरण कुछ और होता है, लेकिन रिजल्ट (UP Board Result 2020) उसके मुताबिक नहीं आ पाता. ऐसे में देखा जाता है कि छात्र तनाव और कई बार डिप्रेशन का भी शिकार बन जाता हैं. अब पेरेंट्स की जिम्मेदारी ज्यादा बढ़ जाती है कि वे कैसे बच्चे को तनाव लेने और डिप्रेशन में जाने  से रोकें.

रिजल्ट ही नहीं है प्रतिभा का पैमाना 
कामयाबी की उम्मीद हर माता-पिता को होती है, लेकिन नाकामयाबी और औसत प्रदर्शन ने लिए भी तैयार रहना चाहिए. बहुत कम माता-प‍िता अपने बच्‍चों को इस बात के ल‍िये तैयार करते हैं, क‍ि अगर र‍िजल्‍ट (UP Board Result 2020) खराब भी हो गया तो उनके सामने क्या-क्या रास्ते खुले हैं. ऐसे में रिजल्ट को बच्चे की प्रतिभा और काबिलियत का आधार न बनाएं. 

ये भी देखिए: यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का रिजल्ट मोबाइल पर ऐसे करें चेक

लॉकडाउन के दौरान रखें खास ख्याल 
इस बार 10वीं और 12वीं के रिजल्ट (UP Board Result 2020) के दौरान पहले जैसी स्थितियां नहीं हैं. बच्चे बाहर जाकर दोस्तों से मिल नहीं सकते. ऐसे में रिजल्ट कुछ भी हो, उन्हें मानसिक तौर पर संभालने की जिम्मेदारी माता-पिता की बढ़ जाती है. ऐसे में उनके साथ रहें और यकीन दिलाएं कि सिर्फ रिजल्ट (UP Board Result 2020) से ही आप उनकी काबिलियत नहीं आंकते. 

असफलता जीवन का हिस्सा है 
बच्चे को मन मुताबिक रिजल्ट (UP Board Result 2020) न मिलने पर उसे ये समझाएं कि सफलता और असफलता जीवन का हिस्सा हैं. कई बार माता-पिता बच्चों से ज्यादा खुद ही निराश हो जाते हैं, लेकिन इस बात को समझने की जरूरत है कि बच्चों का मन कोमल होता है. ऐसे में उन्हें आगे के जीवन के लिए तैयार करना आपकी जिम्मेदारी है.

बच्चे को डांटने के बजाय उसे इमोशनल सपोर्ट दें 
रिजल्ट (UP Board Result 2020) अच्छा न हो तो इसके लिए बच्चे को डांटे नहीं. इस तरह आप परिणाम को बदल नहीं सकते. ऐसे में बच्चे के प्रदर्शन के मुताबिक उसे कुछ सकारात्मक बातें समझाएं और भावनात्मक तौर पर सपोर्ट दें. इस तरह बच्चा किसी गलत दिशा में नहीं सोचेगा. 

इसे भी पढ़िए: UP Board Result 2020: आज आएगा यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट, यहां करें चेक

दूसरे छात्रों का उदाहरण नहीं दें 
अगर छात्र का रिजल्ट (UP Board Result 2020) उसके मुताबिक नहीं आया है तो उसे उसके प्रदर्शन पर प्रोत्साहित करें न कि दूसरे बच्चों का उदाहरण देकर बच्चे को तनाव में डालें. बच्चे के मन पर दूसरों के प्रदर्शन का प्रेशर न बढ़ाएं. ऐसे में कई बार बच्चे या तो उग्र हो जाते हैं या फिर बेहद निराश. 

यहां चेक कर सकते हैं रिजल्ट (UP Board Result 2020)
यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट (UP Board Result 2020) स्टूडेंट्स बोर्ड की ऑफिसियल वेबसाइट  upmsp.edu.in, upresults.nic.in के अलावा upmspresults.up.nic.in पर चेक कर सकेंगे. इसके अलावा छात्र थर्ड पार्टी वेबसाइट पर भी अपना रिजल्ट चेक कर सकेंगे. इन वेबसाइट पर जाकर छात्रों को रोल नंबर, रजिस्ट्रेशन नंबर और डेट ऑफ बर्थ की जरूरत पड़ेगी.

WATCH LIVE TV

Trending news