आगरा में दो पक्षों में खूनी संघर्ष, छुट्टी पर आए सैनिक सहित 3 की मौत

दो दिन पूर्व ललित और महेंद्र के परिवार के युवकों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ था. ग्रामीणों ने उन्हें समझा-बुझाकर शांत करा दिया था, लेकिन अंदर ही अंदर दोनों परिवारों में रंजिश पनप गई और विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया. 

आगरा में दो पक्षों में खूनी संघर्ष, छुट्टी पर आए सैनिक सहित 3 की मौत
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे.

आगरा: फतेहपुर सीकरी के गांव जाजऊ में रविवार (25 नवंबर) की सुबह दो पक्षों के बीच हुई गोलीबारी में छुट्टी पर आए एक सैनिक सहित तीन लोगों की मौत हो गई. घटना से गांव में तनाव है. सुरक्षा की दृष्टि से गांव में भारी पुलिसबल तैनात किया गया है. गोलीबारी में सैनिक ललित सिंह और उनके भाई अनिल सिंह की गोली लगने से मौत हो गयी. आरोप है कि गांव के महेंद्र सिंह ने उन्हें अपनी लाइसेंसी राइफल से गोली मारी. वहीं, इस संघर्ष में महेंद्र सिंह की मां को भी गोली लगी जिससे उसकी भी मौत हो गई.

घटना के संबंध में थाना फतेहपुर सीकरी के पुलिस निरीक्षक सतेंद्र सिंह ने बताया कि गोलीबारी की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गयी. घायलों को अस्पताल ले जाया गया, जहां अनिल ने दम तोड़ दिया. पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल में जुट गए. गांव में तनावपूर्ण माहौल को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.


घटना के बाद गांव में तैनात पुलिस बल. 

पुलिस निरीक्षक सिंह ने बताया कि अपराह्न दोनों पक्षों की ओर से तहरीर दी गई, जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की जायेगी. बताया जाता है कि दो दिन पूर्व ललित और महेंद्र के परिवार के युवकों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ था. ग्रामीणों ने उन्हें समझा-बुझाकर शांत करा दिया था, लेकिन अंदर ही अंदर दोनों परिवारों में रंजिश पनप गई और विवाद खूनी संघर्ष में बदल गया. 

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, रविवार सुबह ललित और उसका भाई अनिल खेत में पानी दे रहे थे. इसी दौरान महेंद्र अपनी राइफल लेकर आ गया. महेंद्र और अनिल के बीच कहासुनी हुई और महेंद्र ने गोलीबारी कर दी. ललित के सीने और पेट में गोली लगी. इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी. इसमें अनिल सिंह गंभीर रूप से घायल हो गया. पुलिस के अनुसार अनिल ने अस्पताल में दम तोड़ दिया. 

ललित की हत्या की सूचना मिलते ही उसके परिवार के लोग मौके पर पहुंचे और दूसरे पक्ष पर फायरिंग कर दी. इसमें महेंद्र सिंह की मां अतरी देवी को गोली लग गयी और उसकी मौके पर मौत हो गयी. कुछ ग्रामीणों को भी छर्रे लगे हैं.