CM योगी ने रोजगार सेवकों को दिया बकाया वेतन का तोहफा, मजदूरों के लिए भी बड़ा ऐलान

बकाया मानदेय के 225.39 करोड़ रुपये देने के बाद सीएम योगी ने ग्राम रोजगार सेवकों से उनकी समस्याएं पूछीं और उसे समझने की कोशिश की. सीएम योगी ने कहा कि सरकार का लक्ष्य प्रतिदिन 50 लाख लोगों को मनरेगा से जोड़ने का है, ताकि उनकी परेशानियां कम हो सकें.

CM योगी ने रोजगार सेवकों को दिया बकाया वेतन का तोहफा, मजदूरों के लिए भी बड़ा ऐलान
फाइल फोटो

लखनऊ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने आज ग्राम रोजगार सेवकों को एक बड़ा तोहफा दिया. सीएम योगी (CM Yogi ) ने प्रदेश के ग्राम रोजगार सेवकों के मानदेय की बड़ी बकाया राशि उन्हें ट्रांसफर कर दी. सीएम योगी ने DBT के जरिये 35818 ग्राम रोजगार सेवकों के खाते में 225.39 करोड़ रुपये की रकम ट्रांसफर की. 

बकाया राशि के भुगतान के साथ ही सुनी समस्याएं 
सीएम योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये ग्राम रोजगार सेवकों से संवाद भी किया. उनके बकाया मानदेय की बड़ी रकम उन्हें देने के बाद सीएम योगी ने ग्राम रोजगार सेवकों से उनकी समस्याएं पूछीं और उसे समझने की कोशिश की. सीएम योगी ने कहा कि सरकार का लक्ष्य प्रतिदिन 50 लाख लोगों को मनरेगा से जोड़ने का है, ताकि उनकी परेशानियां कम हो सकें.

इसे भी पढ़ें: सीएम योगी ने उत्तर प्रदेश में कोरोना संकट में लिए गए फैसलों की पीएम मोदी को दी जानकारी

प्रवासी श्रमिकों पर भी की बात 
सीएम योगी ने बताया कि उत्तर प्रदेश (UTTAR PRADESH) में 4 दिन के अंदर 3 लाख से ज़्यादा मजदूर लाए जा चुके हैं. अब सरकार उनके लिए रोजगार की व्यवस्था पर विचार कर रही है. सीएम योगी ने कहा कि बैंक और ग्राम्य विकास के बीच समन्वय स्थापित होना चाहिए. मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार मजदूरों को 1 हज़ार रुपये का भरण-पोषण भत्ता अलग दे रही है और ग्राहक सेवा केंद्रों से भी पैसा बैंकों तक पहुंचाने की योजना है.