UP: 'मुख्यमंत्री आरोग्य योजना' का शुभारंभ, राज्य के हर जिले में होगा मेडिकल कॉलेज

अपने संबोधन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य के जिन 16-17 जिलों में एक भी मेडिकल कॉलेज नहीं है, उनके लिए एक नई पॉलिसी लाई जाएगी.

UP: 'मुख्यमंत्री आरोग्य योजना' का शुभारंभ, राज्य के हर जिले में होगा मेडिकल कॉलेज
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.

चंदौली: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को नौगढ़ के देवखत गांव स्थित महर्षि वाल्मीकि सेवा संस्थान के रजत जयंती के मौके पर मेले का शुभारम्भ किया. इस दौरान उन्‍होंने महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमा का अनावरण करने के साथ ही जनसभा को भी संबोधित किया. 

अपने संबोधन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य के जिन 16-17 जिलों में एक भी मेडिकल कॉलेज नहीं है, उनके लिए एक नई पॉलिसी लाई जाएगी.

आगामी एक वर्षों में पीपीपी मोड में उन जनपदों में भी एक-एक मेडिकल कॉलेज स्थापित किया जाएगा. मुख्यमंत्री ने चंदौली के लिए एक मेडिकल कॉलेज स्वीकृत किया है. इसका शिलान्यास भी जल्द किया जाएगा. 

सरकारी योजनाओं को लोगों तक पहुंचाना शासन का दायित्व है
जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, 'मुझे प्रसन्नता है कि दुनिया के अंदर सबसे बड़ी सामूहिक स्वास्थ्य की योजना 'मुख्यमंत्री आरोग्य योजना' आज उत्तर प्रदेश के 4200 से अधिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में हम एक साथ प्रारंभ कर रहे हैं.

हर व्यक्ति को स्वस्थ रहने का अधिकार है और शासन का यह दायित्व बनता है कि वह इस प्रकार की स्वास्थ्य सुविधा उन लोगों तक पहुंचाए. प्रत्येक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की गई है.'

हर सप्ताह राज्य के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रो पर बनेगा गोल्डन कार्ड
सीएम योगी ने कहा कि सभी चिकित्सक पात्रता के अनुसार हर व्यक्ति को यह दवाएं उपलब्ध कराने एवं शासन की योजनाओं का लाभ पात्र उम्मीदवारों तक पहुंचाने में योगदान दें.

मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि हर सप्ताह राज्य के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर 'आयुष्मान भारत' और 'मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना' के तहत पात्र उम्मीदवारों के लिए गोल्डन कार्ड बनाने की व्यवस्था सुनिश्चित होगी.