खेती-किसानी से लेनादेना नहीं, विपक्ष किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर चला रहा- CM योगी

सीएम ने कहा कि हम किसानों का सम्मान करते हैं. अंतिम क्षण तक हम संवाद से समाधान का रास्ता निकालेंगे. 

खेती-किसानी से लेनादेना नहीं, विपक्ष किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर चला रहा- CM योगी
कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ ज़ी यूपी उत्तराखंड के एडिटर दिलीप तिवारी की खास बातचीत.

लखनऊ: देश भर में चल रहे किसान आंदोलन को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हम बातचीत के जरिए किसानों की समस्या का समाधान निकालेगें. इस दौरान सीएम ऐसे लोगों पर बरसे जो किसानों को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि किसानों के लिए कृषि कानून बेस्ट है. सीएम योगी ने ये बातें ज़ी यूपी कॉन्क्लेव में कही. कार्यक्रम में मुख्यमंत्री योगी से ज़ी यूपी उत्तराखंड के एडिटर दिलीप तिवारी ने खास बातचीत की. पढ़िए बातचीत के मुख्य अंश. 

''कॉन्ट्रैक्ट फसल का होना है, जमीन का नहीं''
किसान संगठनों के आंदोलन का समाधान कैसे निकेलगा, इस पर सीएम योगी ने कहा कि हम किसानों का सम्मान करते हैं. अंतिम क्षण तक हम संवाद से समाधान का रास्ता निकालेंगे. इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि पीएम मोदी ने किसानों से साफ कहा है कि MSP जारी रहेगी.  APMC एक्ट के तहत मंडियां बंद नहीं होंगी. हम लोगों ने 66 लाख मीट्रिक टन धान एमएसएपी पर खरीदा है. कॉन्ट्रैक्ट फसल का होना है, जमीन का नहीं. 

आंदोलनजीवियों का काम है किसानों को भड़काना
आगे सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि किसानों की जमीन कब्जाने को लेकर झूठ बोला जा रहा है कि एमएसपी नहीं दी जाएगी. यह सरासर झूठ है. यह आंदोलनजीवियों का काम है. उनको विदेशों से इसी बात का चंदा मिलता है. सीएम ने कहा कि जिनका खेती-किसानी से कोई लेना-देना नहीं, वो लोग भी किसानों के कंधे पर बंदूक रखकर चला रहे हैं. 

बातचीत कर निकाले समाधान
इसके अलावा सीएम ने कहा कि किसानों को पीएम किसान निधि से लेकर किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ दिया जा रहा है. पीएम के वक्तव्य के बाद तो आंदोलन खत्म हो जाना चाहिए. किसानों के बेहतरी के लिए कृषि कानून बेस्ट हैं. अगर किसी चीज में कोई शंका है तो किसान सरकार से बातचीत करके दूर कर सकते हैं.

WATCH LIVE TV