close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

CM योगी ने किया तीन तलाक पीड़िताओं से संवाद, कहा- 'जल्द 6000 रुपये सालाना-नौकरी देगी UP सरकार'

Yogi Adityanath: सीएम योगी ने तीन तलाक जैसी कुप्रथा को समाप्त करने के लिए बनाए गए कानून के लिए पीएम मोदी का आभार व्यक्त किया और कहा कि हिंदू समाज में भी जो लोग पत्नी के अतिरिक्त कोई महिला रखते हैं, उन पर कार्रवाई की जाएगी. 

CM योगी ने किया तीन तलाक पीड़िताओं से संवाद, कहा- 'जल्द 6000 रुपये सालाना-नौकरी देगी UP सरकार'
फोटो साभार- @CMOfficeUP

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में आज (25 सितंबर) को सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने तीन तलाक पीड़ित महिलाओं से सीधा संवाद किया और उनकी समस्याएं सुनीं. कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश में पिछले एक साल में 273 ट्रिपल तलाक के मामले आए और सभी की एफआईआर दर्ज कराई गई. इसके साथ ही यूपी सरकार जल्द ही तीन तलाक पीड़िताओं को 6000 सालाना अनुदान देने की योजना लाएगी. यही नहीं पढ़ी-लिखी पीड़ित महिलाओं के लिए नौकरी की भी व्यवस्था की जाएगी.

उन्होंने कहा कि इस मामले में शिथिलता बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. सीएम योगी ने कहा कि विध्वंस आसान है और निर्माण कठिन. सीएम योगी ने तीन तलाक जैसी कुप्रथा को समाप्त करने के लिए बनाए गए कानून के लिए पीएम मोदी का आभार व्यक्त किया और कहा कि हिंदू समाज में भी जो लोग पत्नी के अतिरिक्त कोई महिला रखते हैं, उन पर कार्रवाई की जाएगी. 

सीएम योगी ने कार्यक्रम में अपने संबोधन के दौरान उन मुस्लिम महिलाओं का अभिनंदन किया, जिन्होंने तीन तलाक के खिलाफ अपनी लड़ाई लड़ी, जबकि उन्होंने तीन तलाक पीड़ितों की मदद का पूरा आश्वासन दिया. 

लाइव टीवी देखें

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि पांच बार ट्रिपल तलाक कुप्रथा को बंद करने का आदेश दिया गया था. शाह बानो केस में भी सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद तुष्टिकरण की नीति अपनाई गई. उसके बाद समाज को बांटते हुए सेकुलरिज्‍म की बात करते रहे. यहां तक कि आज सोशल मीडिया के जरिए भी ट्रिपल तलाक दिया जा रहा है. ऐसे में यह कानून बहुत जरूरी है. आपको बता दें सीएम योगी ने तीन तलाक नियम बनने के बाद पहली बार तीन तलाक पीड़ित महिलाओं से सीधा संवाद किया.