शामली में बोले CM योगी, 'कैराना से अब व्यापारी नहीं, अपराधी पलायन करते हैं'

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार पुलिस को अत्याधुनिक हथियारों से लैस कर रही है. अब बदमाश कितनी भी दूर हों, पुलिस के निशाने से नहीं बच पाएंगे. 

शामली में बोले CM योगी, 'कैराना से अब व्यापारी नहीं, अपराधी पलायन करते हैं'
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ.

शामली: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को शामली जनपद पहुंचे थे. यहां उन्होंने करीब 270 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया. इस दौरान मुख्यमंत्री ने पुलिस लाइन का भी शिलान्यास किया. मुख्यमंत्री ने एसपी ऑफिस के पास पंचवटी में पौधरोपण भी कया. मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के करीब साढ़े चार हजार लाभार्थियों में से 107 को मंच पर बुलाकर मकानों की चाबी, आयुष्मान कार्ड और दिव्यागों को उपकरण वितरित किए. 

पुलिस के निशाने से नहीं बचेंगे अपराधी
सीएम योगी ने लोगों को संबोधित करते हुए अपनी सरकार के कामों को गिनाया. उन्होंने कहा कि लखनऊ से छुट्टी लेकर जिलों के भ्रमण पर निकलता हूं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उनकी सरकार पुलिस को अत्याधुनिक हथियारों से लैस कर रही है. अब बदमाश कितनी भी दूर हों, पुलिस के निशाने से नहीं बच पाएंगे. सीएम ने कहा कि भाजपा सरकार में उत्तर प्रदेश में अब तक 1,37,000 पुलिस कर्मिर्यों की भर्ती साफ सुथरे-तरीके से की गई है.

अब व्यापारी नहीं अपराधी पलायन करते हैं
योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले कैराना से व्यापारी पलायन करते थे अब अपराधी पलायन कर रहे हैं. सीएम ने कहा कि सुरक्षा सबको मिलेगी और सम्मान भी सबका होगा. लेकिन कोई कानून हाथ में लेने की कोशिश करेगा तो सख्त कार्रवाई भी होगी. योगी ने कहा कि उनकी सरकार ने पिछले 3 वर्षों में प्रदेश में 29 नए राजकीय कॉलेज खोले हैं.

शामली में भी खुलेगा राजकीय कॉलेज
उन्होंने शामली की जनता से कहा कि आपके यहां भी जल्द राजकीय कॉलेज खुलेगा, अभी 16 जिलों में राजकीय कॉलेज खोले जाएंगे. सीएम ने कहा कि सहरानपुर में एक विश्वविद्यालय दे दिया गया है. जमीन मिलते ही इसका काम शुरू होगा. मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि उनकी सरकार गन्ने का बकाया भी दे रही है. पहले की सरकारों में चीनी मिलें बंद हो रही थीं, अब नहीं होंगी.

तोड़-फोड़ और आगजनी बर्दाश्त नहीं
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2017 में चुनाव के दौरान यहां आया था, तब शिकायत थी कि बेटीयां सुरक्षित नहीं हैं. अब बेटियों के साथ न्याय होता है. पर्व बनाने के लिए अब पूर्ण आजादी है. तोड़-फोड़ और आगजनी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जाएगी. ऐसा करने वालों से नुकसान की पूरी भरपाई करा रहे हैं. सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का अधिकार किसी को नहीं है.