संत परमहंस दास को जूस पिलाकर सीएम योगी ने तुड़वाया अनशन

सात अक्टूबर को उन्हें लखनऊ के पीजीआई में भर्ती कराया गया था. 

संत परमहंस दास को जूस पिलाकर सीएम योगी ने तुड़वाया अनशन
परमहंस दास भव्य राम मंदिर निर्माण को लेकर करीब एक हफ्ते तक अनशन पर थे. (फोटो साभार- @CMOfficeUP )

नई दिल्ली/लखनऊ: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए अनशन पर बैठे स्वामी परमहंस दास को जूस पिलाकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आमरण अनशन खत्म कराया. सीएम योगी ने परमहंस दास की मांग को गरिमामय व न्यायसंगत बताया और उनकी अन्य मांगों के अनुरूप प्रधानमंत्री से वार्ता कराने का वादा करके अनशन खत्म कराया. इस मौके पर अयोध्या के विधायक वेद प्रकाश गुप्ता भी मौजूद थे. 

CM Yogi stop the hunger strike of Saint paramhans das in lucknow

सीएम ऑफिस की तरफ जारी किए एक ट्वीट में बताया गया कि प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाश ने शास्त्री भवन में तपस्वी जी की छावनी, अयोध्या के महंत स्वामी परमहंस दास जी का अनशन जूस पिलाकर समाप्त करवाया. इ

आपको बता दें कि अयोध्या में संत परमहंस दास भव्य राम मंदिर निर्माण को लेकर करीब एक हफ्ते तक अनशन पर थे. अन्न जल का त्याग करने से उनकी तबीयत बिगड़ने लगी, जिसके बाद उन्हें 7 अक्टूबर को उन्हें लखनऊ के पीजीआई में भर्ती कराया गया था. यहां पहले इलाज कराने से मना करने के बाद बहुत समझाने से वह इलाज कराने के लिए तैयार हुए.

बताया जा रहा है कि सात दिनों से इनशन पर बैठे संत परमहंस दास की सेहत बिगड़ने लगी थी. अनशन के कारण उनका कीटोन बढ़ गया था. वहीं, शरीर में पानी की कमी और ग्लूकोज का स्तर कम हो गया था. 

आपको बता दें कि राम मंदिर निर्माण को लेकर अयोध्या के संत परमहंस ने 1 तारीख से आमरण अनशन का ऐलान किया था. अयोध्या में राम मंदिर के लिए आमरण अनशन पर बैठे महंत स्वामी परमहंस दास ने चार अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखा था. इस पत्र में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से अयोध्या आकर श्री रामलला के दर्शन करने की मांग की गई थी. पीएम मोदी को भेजे जाने वाले इस पत्र में अयोध्या के कई संतों ने अपने हस्ताक्षर किए थे. पत्र में राम मंदिर निर्माण की समय सीमा की मांग भी की गई थी.