योगी सरकार के 1 करोड़ रोजगार के मेगा प्लान पर विपक्ष का तंज, कहा- हालत सब जानते हैं

अनुराग भदौरिया ने कहा अगर लोगों को नौकरियां मिलती तो युवा, किसान, गरीब उत्तर प्रदेश में आत्महत्या नहीं करते. 

योगी सरकार के 1 करोड़ रोजगार के मेगा प्लान पर विपक्ष का तंज, कहा- हालत सब जानते हैं
फाइल फोटो.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार के एक करोड़ लोगों को रोजगार देने के मेगा प्लान पर विपक्षी पार्टियों ने निशाना साधा है. समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने इसे महाझूठ करार दिया है. वहीं, कांग्रेस ने सरकार को नसीहत दी है कि सिर्फ वादे करने के बजाए लोगों को रोजगार दिया जाए.

नौकरियां मिलती हैं गरीब आत्महत्या नहीं करते: सपा
सपा प्रवक्ता ने कहा, ''बीजेपी झूठ की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए महाझूठ की तरफ अग्रसर है. अब तक कितना रोजगार मिला ये सब जानते हैं. मोदी सरकार ने वादा किया था कि हर साल 2 करोड़ लोगों को नौकरियां देंगे. योगी सरकार ने भी वादा किया था कि लोगों को नौकरियां देंगे. लेकिन अब तक उत्तर प्रदेश की स्थिति क्या है सभी जानते हैं.

अनुराग भदौरिया ने कहा अगर लोगों को नौकरियां मिलती तो युवा, किसान, गरीब उत्तर प्रदेश में आत्महत्या नहीं करते. आज लोग भुखमरी की वजह से आत्महत्या कर रहे हैं और सरकार झूठे वादे कर रही है.''

आयोजनों से आगे बढ़े सरकार: कांग्रेस
वहीं, कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने कहा कि योगी सरकार प्रदेश में लोगों को रोजगार देने के लिए आयोग बना रही है. सरकार ने उत्तर प्रदेश में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन किया, ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी भी की, लेकिन सब बेनतीजा रहा. कांग्रेस का आरोप है कि प्रदेश में अभी तक किसी को रोजगार नहीं मिला है. कांग्रेस MLC ने कहा कि सरकार इन आयोजनों से आगे बढ़े और लोगों को सच में रोजगार देने का इंतजाम करे.

बता दें कि, करीब 58 लाख श्रमिकों को रोजगार देने का रिकॉर्ड कायम करने वाली योगी सरकार ने 26 जून तक एक करोड़ लोगों को रोजगार देने का लक्ष्य रखा है. इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी सूबे में लौटे प्रवासी श्रमिकों से बात भी करने वाले हैं. 26 जून को होने वाले इस मेगा अभियान को लेकर जारी तैयारियों के बीच उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री सतीश महाना ने कहा कि योगी सरकार जिस तरह से मजदूरों के लिए रोजगार का अभियान चला रही है, उसमें पीएम नरेंद्र मोदी के शामिल होने से सभी का उत्साह बढ़ेगा.