UP: कांग्रेस ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते 10 बागी नेताओं को किया निष्कासित

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने बगावती तेवर अपनाने वाले 11 वरिष्ठ नेताओं को पार्टी से निष्कासित कर दिया है.

UP: कांग्रेस ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते 10 बागी नेताओं को किया निष्कासित

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कांग्रेस ने बगावती तेवर अपनाने वाले 10 वरिष्ठ नेताओं को पार्टी से निष्कासित कर दिया है. इन सभी बागी नेताओं को यूपी कांग्रेस ने पार्टी से 6 साल के लिए निष्काषित कर दिया है. बागी नेताओं में पूर्व सांसद सन्तोष सिंह, पूर्व एमएलसी सिराज मेंहदी, पूर्व मंत्री रामकृष्ण द्विवेदी, पूर्व मंत्री सत्यदेव त्रिपाठी, राजेन्द्र सिंह सोलंकी, पूर्व विधायक भूधर नारायण मिश्रा, पूर्व विधायक हाफिज मोहम्मद उमर, पूर्व विधायक विनोद चौधरी, पूर्व विधायक नेक चन्द्र पाण्डेय, स्वयं प्रकाश गोस्वामी और संजीव सिंह शामिल हैं.

बताया जा रहा है कि इन सभी नेताओं को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के चलते कांग्रेस से बाहर का रास्ता दिखाया गया है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी में प्रियंका गांधी वाड्रा ने आमूल-चूल परिवर्तन किए थे. इन संगठनात्मक बदलावों के चलते प्रदेश के कई बड़े पदों से वरिष्ठ कांग्रेसियों को साइडलाइन कर दिया गया था. प्रदेश कांग्रेस में युवाओं और नए चेहरों को जिम्मेदारी मिलने के बाद से ही वरिष्ठ कांग्रेसी पार्टी के खिलाफ लामबंद हो गए थे. इन सभी नेताओं को अनुशासनहीनता के मामले में नोटिस भी जारी हुआ था.

कांग्रेस के खिलाफ विरोध की आवाज बुलंद करने वाले इन वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं ने हाल ही में लखनऊ में एक बैठक भी की थी. उस बैठक में अपनी बात को पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी तक पहुंचाने का निर्णय लिया गया था. हालांकि, सोनिया गांधी तक आवाज पहुंचने से पहले ही इन नेताओं को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है. गौरतलब है कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने उत्तर प्रदेश में अजय सिंह लल्लू को प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किया था.  इसके बाद अजय सिंह लल्लू ने पार्टी में कई बदलाव किए थे. राजनीतिक गलियारों में चर्चा थी कि प्रियंका गांधी वाड्रा के इशारे पर ही ये सब किया गया है.