दारुल उलूम ने गणतंत्र दिवस पर मदरसा छात्रों को ट्रेनों में सफर न करने की दी हिदायत
Advertisement
trendingNow0/india/up-uttarakhand/uputtarakhand491128

दारुल उलूम ने गणतंत्र दिवस पर मदरसा छात्रों को ट्रेनों में सफर न करने की दी हिदायत

दारुल उलूम देवबंद ने एक अपील करते हुए एक पोस्टर दारुल उलूम पर चस्पा करते हुए तलबाओ से अपील की है कि वो बिना वजह ट्रेन मे सफर न करें.

फाइल फोटो

देवबंद (ओवैस अली) : 26 जनवरी को मनाए जाने वाले गणतंत्र दिवस की तैयारियां पूरे देश में जोरों-शोरों से चल रही है. देशभर में सुरक्षा को भी बढ़ा दिया गया है. वहीं, इसी बीच उत्तर प्रदेश में देवबंद के दारुल उलूम की ओर से एक निर्देश जारी किया है. दारुल उलूम का कहना है कि सभी छात्र गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रेनों में सफर करने से बचें. 

छात्र ट्रेन में बहस करने से बचे- दारुल उलूम
दारुल उलूम देवबंद ने एक अपील करते हुए एक पोस्टर दारुल उलूम पर चस्पा करते हुए तलबाओ से अपील की है कि वो बिना वजह ट्रेन मे सफर न करें, क्योंकि चैंकिग होने से बेगुनाह तलबा पकड़े जाते हैं. उन्होंने कहा कि इस कारण डर और भय का माहौल बन जाता है. दारुल उलूम की ओर से दिए गए निर्देश में कहा गया है कि वह ट्रेन में किसी तरह से बहस करने से बचें, ताकि किसी भी हालात में मुद्दा न गर्माए.

क्या-क्या लिखा है नोटिस में...
दारुल उलूम देवबन्द ने तलबाओं से यही अपील की है 26 जनवरी के मौके पर तिरंगा फहराने के बाद मे तलबाओं की छुट्टी हो जाती है छात्र जो है वक्त को देखते हुए समझते हैं कि हम कहीं अपने यार दोस्तों के पास में घूमने फिरने को निकल जाए तो उसको देखते हुए दारुल उलूम देवबंद ने छात्रों से सख्त हिदायत दी है कि ऐसे मौके पर कहीं सफर न करें और अगर किसी को जरूरत है तो सफर करके फौरन दारुल उलूम देवबंद का रुख करें.

विवादित फतवे के लिए आया था नाम
बता दें कि कुछ वक्त पहले ही दारुल उलूम ने एक फतवा जारी किया गया था, जिसमें कहा गया था कि सेल्फी लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट करना हराम होता है. इस फतवे में कहा गया था कि फोटो सिर्फ जरूरत के लिए होते हैं, अगर फोटो खिंचवाएं तो उसे रखें ना कि प्रचारित करें.

Trending news